ड्रीम स्पोर्ट्स ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स के पांचवें संस्करण के लिए साझेदारी का विस्तार किया

ड्रीम स्पोर्ट्स ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स के पांचवें संस्करण के लिए साझेदारी का विस्तार किया


नई दिल्ली, 24 जनवरी (हि.स.)। भारत की अग्रणी स्पोर्ट्स टेक्नोलॉजी कंपनी, ड्रीम स्पोर्ट्स ने आज खेलो इंडिया यूथ गेम्स (केआईवाईजी) के साथ विस्तारित साझेदारी की घोषणा की है। इस कार्यक्रम के सह-प्रायोजक के रूप में ड्रीम स्पोर्ट्स के सहयोग का यह दूसरा वर्ष है।

भारतीय खेल प्राधिकरण के साथ भारत सरकार द्वारा 2018 में शुरू की गई एक प्रमुख पहल, केआईवाईजी का अगला संस्करण 30 जनवरी से 11 फरवरी तक मध्य प्रदेश के आठ शहरों में आयोजित किया जाएगा, और 6000 से अधिक युवा एथलीटों की मेजबानी करेगा।

इस अवसर पर ड्रीम स्पोर्ट्स के सीओओ और सह-संस्थापक, भावित शेठ ने कहा, “खेलो इंडिया यूथ गेम्स के साथ जुड़ना हमारे लिए सौभाग्य की बात है जो भारत के युवाओं को सशक्त बनाने के हमारे जुनून और खेलों को बेहतर बनाने के हमारे दृष्टिकोण को साझा करता है। इस साझेदारी के माध्यम से, हम आशा करते हैं कि हम भारत के खेल पारिस्थितिकी तंत्र के पोषण के अपने सामान्य लक्ष्य की दिशा में काम करना जारी रखेंगे और अपने नवोदित एथलीटों को खेलों को आगे बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।”

खेलों को बेहतर बनाने की दृष्टि से, ड्रीम स्पोर्ट्स की शाखा ड्रीम फाउंडेशन खेल पहल का समर्थन कर रहा है, और मैरी कॉम रीजनल बॉक्सिंग फाउंडेशन, बाईचुंग भूटिया फुटबॉल स्कूल और दिलीप वेंगसरकर फाउंडेशन के साथ साझेदारी की है। फाउंडेशन ने हाल ही में 'ड्रीमगोल्ड' लॉन्च किया, जो कई खेलों में एक दीर्घकालिक एलीट एथलीट विकास कार्यक्रम है, जिसके तहत भारत की शीर्ष पैडलर श्रीजा अकुला को राष्ट्रमंडल खेलों 2022 में अपनी ऐतिहासिक जीत के लिए अर्जुन पुरस्कार मिला।

भारतीय खेल प्राधिकरण के एक प्रवक्ता ने ड्रीम स्पोर्ट्स के खेलो इंडिया के साथ जुड़ने पर कहा, खेलो इंडिया यूथ गेम्स' का मिशन प्रतिभाशाली और सक्षम युवा एथलीटों को खेल में अपना करियर बनाने के लिए एक मंच प्रदान करना है। भारतीय खेल प्राधिकरण, हमारे प्रयासों का समर्थन करने वाले भागीदारों के रूप में ड्रीम स्पोर्ट्स का स्वागत करता है। हम इस संस्करण के साथ इस साझेदारी के मजबूत और बेहतर होने की आशा करते हैं।

बता दें कि खेलो इंडिया यूथ गेम्स भारत के सबसे बड़े और प्रमुख खेल आयोजनों में से एक है। इसका उद्देश्य जमीनी स्तर पर खेलों को बढ़ावा देना और युवाओं तक पहुंचकर देश की खेल संस्कृति को और मजबूत करना है। यह टूर्नामेंट एथलीटों के लिए बड़ा और बेहतर प्रदर्शन करने और अंतरराष्ट्रीय खेल प्लेटफार्मों पर भारत का नाम रोशन करने के लिए एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

हिन्दुस्थान समाचार/ सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story