देश के मतदाता तय कर चुके हैं तीसरी बार मोदी सरकार: डॉ मोहन यादव

देश के मतदाता तय कर चुके हैं तीसरी बार मोदी सरकार: डॉ मोहन यादव


देश के मतदाता तय कर चुके हैं तीसरी बार मोदी सरकार: डॉ मोहन यादव


देश के मतदाता तय कर चुके हैं तीसरी बार मोदी सरकार: डॉ मोहन यादव


भोपाल, 13 फरवरी (हि.स.)। मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने कहा कि आजमगढ़ (उत्तरप्रदेश) से मेरा विशेष रिश्ता भी है। मैं अपने कार्यकर्ताओं के बीच में आकर अत्यंत आनंदित हूं। मैं एक राज्य का मुख्यमंत्री भले ही हूं, लेकिन मेरा मूल कार्यकर्ता भाव है। मुझे पूर्ण विश्वास है कि भाजपा के समस्त कार्यकर्ता एक बार फिर से मोदी सरकार बनाने के लिए कटिबद्ध हैं। आज के इस दौर में निश्चित रूप से हमारे लिए पूरी चेतना के साथ जैसे ही लोकसभा चुनाव की घोषणा होगी, सभी राज्यों में कार्यकर्ता अपने-उद्देश्य की पूर्ति के लिए लगेंगे। देश के लगभग 100 करोड़ से ज्यादा आबादी के मतदाता ये तय कर चुके हैं, “तीसरी बार मोदी सरकार“। निश्चित रूप से फिर एक बार मोदी सरकार तीसरी बार बनने जा रही है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ यादव मंगलवार को भाजपा के क्लस्टर प्रभारियों की बैठक में शामिल होने के लिए उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ पहुंचे थे। वे आजमगढ़ क्लस्टर में आने वाली आजमगढ़-लालगंज-घोसी-बलिया और सलेमपुर समेत पांच लोकसभा क्षेत्र के क्लस्टर श्रेणी की तीन बैठकों में शामिल हुए एवं लोकसभा चुनाव की दृष्टि से पार्टी की रणनीति, कार्यकर्ताओं की महत्वपूर्ण भूमिका सहित मोदी सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने एवं लोकसभा चुनावों में पार्टी के 400 पार के लक्ष्य जैसे विषयों पर मंथन किया।

इस अवसर पर उत्तरप्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री सूर्यप्रताप शाही, अरविन्द कुमार शर्मा, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गिरीश चन्द्र यादव, पार्टी के प्रदेश महामंत्री गोविंद नारायण शुक्ला, पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान, क्षेत्रीय अध्यक्ष सहजानंद राय, जिला अध्यक्ष, जिला प्रभारी, लोकसभा संयोजक, लोकसभा प्रभारी, विधानसभा संयोजक, विधानसभा प्रभारी एवं विधानसभा प्रबंध समिति के सदस्य- गण उपस्थित रहे। बैठक के बाद मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने मीडिया से भी बात की।

प्रधानमंत्री मोदी ने लोकतंत्र को गौरवांवित किया

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का करिश्माई नेतृत्व दिख रहा है। हम रोज, हर दिन, हर प्रकार की घटनाओं में मोदी का इंपैक्ट पाते हैं। हम सब देख रहे हैं उत्तरप्रदेश पूरे देश को लीड कर रहा है। अयोध्या में भगवान श्रीराम के जन्म स्थान पर भव्य मंदिर का सपना साकार कर 22 जनवरी का दिन इतिहास में अमर कर दिया। ये मोदी का प्रताप है कि अरब जैसे मुस्लिम कंट्री में भी मंदिर का लोकार्पण करने के लिए वो वहां जा रहे हैं। हाल ही में कतर से नौसेना के भारतीयों अधिकारियों की रिहाई का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कदम-कदम पर मोदी ने भारत का यश बढ़ाया है। भारत में लोकतंत्र की सबसे बड़े पद को गौरवान्वित करने का काम नरेन्द्र मोदी ने किया है।

इंडी अलायंस- कहीं की ईंट, कहीं का रोड़ा

उन्होंने विपक्ष पर हमलावर होते हुए कहा कि इंडी अलायंस वैसे ही है जैसे कहीं की ईंट, कहीं का रोड़ा, भानुमती का कुनबा जोड़ा। आखिरकार स्वार्थ के लोगों का जमावड़ा लंबे दिन तक नहीं चलता है। केवल एक शगूफा था जो सबके सामने दिखा है। चाहे ममता की पार्टी हो, चाहे आप की पार्टी हो, हर एक ने अपना अपना रास्ता पकड़ लिया है। कांग्रेस केवल ख्याली पुलाव बना सकती थी। कांग्रेस ने अपने सारे यत्न, पर्यंत करके सत्ता बनाने का षड्यंत्र रखा था। मुझे पहले से भरोसा था और अब जनता ने भी देख लिया है कि उनका षड्यंत्र कामयाब नहीं हुआ।

देश भर में चल रहा है अभियान

उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के नेतृत्व में हर विधानसभा और हर लोकसभा में पार्टी का मत प्रतिशत बढ़ाने का अभियान देश भर में चल रहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा द्वारा क्लस्टर श्रेणी बनाई गई है। इसी सिलसिले में देश भर में पार्टी पदाधिकारियों के प्रवास कार्यक्रम निरंतर चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का मेरा पहला प्रवास आजमगढ़ क्लस्टर में हुआ है। मुझे इस बात की प्रसन्नता है कि हमारे कार्यकर्ता अपने लोकसभा में जो जवाबदारी दी गई है, उसे अच्छे से निभा रहे हैं। भाजपा का संगठन बहुत कुशलता के साथ जो-जो उत्तरदायित्व दिया गया है, उसका निर्वहन कर रहा है।

मैं मुख्यमंत्री बाद में, भाजपा का कार्यकर्ता पहले हूं

डॉ यादव ने क्लस्टर बैठकों में कहा कि मुझे इस बात की अत्यंत प्रसन्नता है कि दुनिया में भाजपा एक मात्र पार्टी है जो कार्यकर्ताओं को कार्यकर्ता से लेकर मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री तक बनाती है। मैं मुख्यमंत्री बाद में भाजपा का कार्यकर्ता पहले हूं।’ मुझे इस बात का गर्व है। जब हम कार्यकर्ता बनाते हैं तो कार्यकर्ता को कार्यकर्ता की तरह ढलने के लिए ट्रेनिंग के दौर से निकालते हैं। विभिन्न प्रशिक्षण के माध्यम से उसको ये शिक्षण देते हैं। यद्यपि शिक्षण अपनी जगह है लेकिन असली अर्थ में प्रशिक्षण जीवन भर चलता रहता है। यह हर स्तर पर चलता रहता है। यह प्रशिक्षण जीवन में हमें मूलधारा से जुडे रहने के लिए होता है, उद्देश्य को याद रखने के लिए और अपने आप को सतत बनाए रखने के लिए होता है।

हिन्दुस्थान समाचार/मुकेश/आकाश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story