सिंगापुर एयर शो में एयरोबेटिक्स युद्धाभ्यास का प्रदर्शन करेगी सारंग टीम

सिंगापुर एयर शो में एयरोबेटिक्स युद्धाभ्यास का प्रदर्शन करेगी सारंग टीम

सिंगापुर एयर शो में एयरोबेटिक्स युद्धाभ्यास का प्रदर्शन करेगी सारंग टीम

- भारत के 71 वायु योद्धाओं की टीम सिंगापुर के पया लेबर एयरबेस पर पहुंची

- पांच स्वदेशी एडवांस लाइट हेलीकॉप्टर 'ध्रुव' भी अपनी हवाई क्षमता दिखाएंगे

नई दिल्ली, 13 फरवरी (हि.स.)। भारतीय वायु सेना की विश्व प्रसिद्ध सारंग हेलीकॉप्टर डिस्प्ले टीम 20 फरवरी से सिंगापुर में होने वाले एयर शो में एयरोबेटिक्स युद्धाभ्यास का प्रदर्शन करेगी। इसके लिए भारत के 71 वायु योद्धाओं की एक टीम सिंगापुर के पया लेबर एयरबेस पर सोमवार को पहुंच चुकी है। इस एयर शो में पांच स्वदेशी एडवांस लाइट हेलीकॉप्टर (एएलएच) 'ध्रुव' भी अपनी हवाई क्षमता दिखाएंगे।

भारतीय वायुसेना के हेवी लिफ्ट परिवहन विमान सी-17 ग्लोबमास्टर III से सारंग हेलीकॉप्टर डिस्प्ले टीम को सिंगापुर ले जाया गया है। दो साल में एक बार होने वाला सिंगापुर एयर शो 20 फरवरी से शुरू होकर 24 फरवरी को समाप्त होगा। इस शो में दुनिया भर के देशों की वायु सेनाएं शामिल होकर अपने-अपने हवाई करतब दिखाने की तैयारी के साथ पहुंच रही हैं। इसी शो में भारत की विश्व प्रसिद्ध सारंग हेलीकॉप्टर डिस्प्ले टीम अपने शानदार एयरोबेटिक्स युद्धाभ्यास का प्रदर्शन करेगी।

वायु सेना की सारंग हेलीकॉप्टर डिस्प्ले टीम का गठन 2003 में किया गया था। इस टीम ने पहला अंतरराष्ट्रीय सार्वजनिक प्रदर्शन 2004 में एशियन एयरोस्पेस शो सिंगापुर में ही किया था। शुरुआत में तीन हेलीकॉप्टर फॉर्मेशन के रूप में गठित और विकसित हुई सारंग टीम अब एक रोमांचक पांच हेलीकॉप्टर प्रदर्शन का दावा करती है। अब तक यह टीम दुनिया भर में 385 से अधिक स्थानों पर 1200 से अधिक प्रदर्शन कर चुकी है। यह टीम बेंगलुरु के पास येलहंका वायु सेना स्टेशन पर होने वाले द्विवार्षिक एयर शो 'एयरो इंडिया' में नियमित रूप से प्रदर्शन करती है।

हवाई प्रदर्शन के लिए पांच उन्नत हल्के हेलीकॉप्टरों (एएलएच) 'ध्रुव' को भी सिंगापुर भेजा गया है। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने इसे हर मौसम में बहु मिशन को सक्षम बनाने के लिए डिजाइन किया है। इसमें कठोर रोटार लगाए गए हैं, जो इसे अत्यधिक चलने योग्य और सैन्य भूमिकाओं के लिए उपयुक्त बनाते हैं। यह टीम चार संशोधित ध्रुव हेलीकॉप्टर उड़ाती है, जिन्हें उन्नत हल्के हेलीकॉप्टर (एएलएच) मार्क-1 के नाम से भी जाना जाता है। इसके अन्य वेरिएंट मार्क-2 और मार्क-3 हैं। इसका नवीनतम वेरिएंट एएलएच मार्क-IV सशस्त्र संस्करण है।

हिन्दुस्थान समाचार/सुनीत/पवन

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story