चुनाव हारने के बावजूद केंद्र में मंत्री बने बिट्टू

अब राज्यसभा सांसद बनना हुआ तय

चंडीगढ़, 09 जून (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में रविवार को तीसरी बार केंद्र में बनी सरकार में पंजाब के लुधियाना से भाजपा प्रत्याशी रहे रवनीत बिट्टू भी राज्य मंत्री बन गए हैं। रवनीत बिट्टू को लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस के अमरिंदर सिंह राजा वडिंग से हार मिली थी। भाजपा को इस चुनाव में भले ही एक भी सीट नहीं मिली है लेकिन भाजपा पंजाब में तीसरी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। भाजपा के दो प्रत्याशी दूसरे नंबर पर रहे हैं। रवनीत बिट्टू को केंद्र में मंत्री बनाए जाने के पीछे भाजपा हाईकमान की बड़ी रणनीति है। इससे पहले मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दौरान होशियारपुर से भाजपा सांसद रहे सोम प्रकाश मंंत्री रह चुके हैं।

बिट्टू के मंत्री बनने के बाद यह भी साफ हो गया है कि भाजपा अब उन्हें राज्य सभा में भेजेगी। पड़ोसी राज्य हरियाणा में भी राज्यसभा की एक सीट खाली हुई है। जिस पर उपचुनाव होने जा रहे हैं।

मोदी सरकार में 2014 से पंजाब को हमेशा मंत्री पदों पर प्रतिनिधित्व मिला है। 2014 में अरुण जेटली को अमृतसर से हार का सामना करना पड़ा था लेकिन उन्हें राज्यसभा सदस्य बनाकर वित्त मंत्री बनाया गया। 2019 में हरदीप पुरी अमृतसर से चुनाव हार गए, लेकिन उन्हें राज्यसभा से चुनकर मंत्री पद दिया गया। इसके अलावा 2014 में विजय सांपला को भी केंद्रीय राज्य मंत्री बनाया गया। 2019 में होशियारपुर से सांसद सोमप्रकाश को केंद्रीय राज्य मंत्री तथा गठबंधन के चलते शिरोमणि अकाली दल की हरसिमरत कौर बादल भी कैबिनेट मंत्री रह चुकी हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/संजीव/आकाश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story