गरीबों के कल्याण के लिए सरकार ने खोला खजाना: नरेन्द्र मोदी

गरीबों के कल्याण के लिए सरकार ने खोला खजाना: नरेन्द्र मोदी
गरीबों के कल्याण के लिए सरकार ने खोला खजाना: नरेन्द्र मोदी


-प्रधानमंत्री ने 2,993 करोड़ की लागत से कुल 1,31,454 आवास का ई-लोकार्पण व शिलान्यास किया

-आवास अर्पण के इस ऐतिहासिक कार्यक्रम में राज्य के सभी 182 विधानसभा क्षेत्रों की भागीदारी

अहमदाबाद, 10 फरवरी (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की वर्चुअल उपस्थिति में शनिवार को पूरे राज्य में 2,993 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित कुल 1,31,454 आवासों का ई-लोकार्पण और शिलान्यास किया गया। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल बनासकांठा के डीसा में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों से वर्चुअल संवाद करने के बाद प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि गरीबों के कल्याण के लिए सरकार ने खजाना खोल दिया है। गरीब कल्याण की हर सरकारी योजना के सबसे बड़े लाभार्थी दलित, ओबीसी और आदिवासी परिवार हैं। मोदी की गारंटी का सबसे अधिक लाभ इन परिवारों को हुआ है। प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीब, युवा, अन्नदाता अर्थात् किसान, महिलाएं विकसित भारत के आधार स्तंभ हैं, इसलिए इनका सशक्तिकरण हमारी प्रतिबद्धता है।

प्रधानमंत्री ने गृह प्रवेश करने वाले लाभार्थियों को बधाई देते हुए कहा कि सरकार का प्रयास है कि सभी के पास अपना पक्का घर हो। आज गुजरात में सवा लाख से ज्यादा परिवारों को अपना घर मिल चुका है, जो दिखाता है कि मोदी की गारंटी, गारंटी को पूरा करने की भी गारंटी है। उन्होंने कहा, पिछले 10 वर्षों में देश में 25 करोड़ लोग गरीबी को परास्त कर गरीबी से बाहर आ गए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस वर्ष केंद्र सरकार ने बजट में 2 करोड़ नए घर बनाने की घोषणा की है। पहले गरीब आवास योजना का पैसा गरीबों तक नहीं पहुंचता था। परंतु आज सारी राशि सीधे लाभार्थी के खाते में जमा होती है और लोग खुशी-खुशी अपने घर में प्रवेश करते हैं।

अन्नदाता को ऊर्जादाता बनाने की योजना के विषय पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि गुजरात ने कृषि विकास के साथ-साथ औद्योगिक विकास को नई गति दी है। प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि अंबाजी में हो रहे विकास कार्यों से आगामी समय में भक्तों और पर्यटकों की संख्या में वृद्धि होगी। साथ ही, अंबाजी-तारंगा रेलवे लाइन के निर्माण से पूरे क्षेत्र को बहुत फायदा होगा।

अंतिम छोर पर रहने वालों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचा: पटेल

इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने कहा कि आज राज्य के लाखों परिवारों के घर में गुजराती मिठाई लापसी बनाई जाएगी, यह खुशी की बात है। ये परिवार गृह प्रवेश का उत्सव मना रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस ऐतिहासिक आयोजन के प्रेरणास्रोत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं। प्रधानमंत्री ने गरीब और वंचित लोगों की चिंता की है और अंतिम छोर पर रहने वाले लोगों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाया है।

विधानसभा अध्यक्ष शंकर चौधरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दृढ़ संकल्प के कारण आज गरीबों का पक्के मकान का सपना भी साकार हो रहा है।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने मोरबी जिले के नाना खिजड़िया, राजकोट, वापी और बनासकांठा जिले के कुंभारिया और जलोत्रा गांवों के लाभार्थियों के साथ वर्चुअल संवाद किया। लाभार्थियों ने अपने सपनों का घर साकार करने के लिए प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने 'सेल्फी विद मोदीजी' रथ का प्रस्थान कराया। बनासकांठा जिले के 'विकसित भारत संकल्प यात्रा' के 2,95,000 लाभार्थियों द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त करते हुए लिखे गए पोस्टकार्ड जिला कलेक्टर ने मुख्यमंत्री को सौंपे।

हिन्दुस्थान समाचार/बिनोद/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story