(अपडेटः किसान आंदोलन) - लोगों को वैकल्पिक मार्ग अपनाने की सलाह

नई दिल्ली, 13 फ़रवरी (हि.स.)। किसान आंदोलनकारियों ने विरोध प्रदर्शन करने के लिए मंगलवार सुबह 10 बजे दिल्ली की ओर कूच करने का एलान किया है, जिस पर वे कायम हैं। इस दौरान कोई अप्रिय घटना न हो, उसको देखते हुए दिल्ली में 12 मार्च तक धारा 144 लगा दी गई है।

दिल्ली के अन्य राज्यों से लगने वाली सीमाओं पर अब भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात हैं और सुरक्षा के भी इंतजाम कड़े किए गए हैं। एक तरफ बदरपुर बॉर्डर पर दिल्ली की सीमा हरियाणा के फरीदाबाद से मिलती है। उ.प्र. और हरियाणा के साथ लगी सीमाओं पर ब्लॉकर्स भी लगाए हैं। साथ ही पांच हजार से अधिक सुरक्षाकर्मियों को बॉर्डर्स पर तैनात किया गया है।

किसान संगठनों द्वारा बुलाए गए 'दिल्ली चलो' विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर गाजीपुर बॉर्डर पर बैरिकेडिंग की गई है। गाजीपुर सीमा से गाजियाबाद जाने वाले वाहन आज अक्षरधाम मंदिर के सामने से पुश्ता रोड या पटपड़गंज रोड/मदर डेयरी रोड या चौधरी चरण सिंह मार्ग आइएसबीटी आनंद विहार और गाजियाबाद में महाराजपुर या अप्सरा सीमा से बाहर निकल सकेंगे।

-कालिंदी कुंज बॉर्डर पर दिल्ली की सीमा नोएडा से मिलती है। यही वजह है कि कालिंदी कुंज बॉर्डर पर भी किसानों के दिल्ली मार्च के मद्देनजर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। यहां शाम से ही बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात है।

-ट्रैफिक एडवाइजरी के मुताबिक, एनएच-44 के माध्यम से सोनीपत, पानीपत, करनाल आदि की ओर जाने वाली अंतरराज्यीय बसें आईएसबीटी से मजनू का टीला से सिग्नेचर ब्रिज से खजूरी चौक से लोनी बॉर्डर से खेकड़ा के रास्ते केएमपी तक जाएंगी।

हिन्दुस्थान समाचार/ अश्वनी/जितेन्द्र

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story