स्वाति मालीवाल का बयान लेने पहुंची पुलिस, चार घंटे बाद लौटी

स्वाति मालीवाल का बयान लेने पहुंची पुलिस, चार घंटे बाद लौटी
स्वाति मालीवाल का बयान लेने पहुंची पुलिस, चार घंटे बाद लौटी


नई दिल्ली, 16 मई (हि.स.)। राज्यसभा सदस्य स्वाति मालीवाल के साथ मारपीट के मामले अब पुलिस और महिला आयोग हस्ताक्षेप किया है। राष्ट्रीय महिला आयोग ने मारपीट को लेकर केजरीवाल के निजी सचिव बिभव कुमार को कल उसके समक्ष पेश होने को कहा है। वहीं दिल्ली पुलिस की एक टीम आज स्वाति मालीवाल से मिलने उनके आवास पहुंची। करीब चार घंटे बाद पुलिस उनके आवास से निकलती हुई दिखाई दी। पुलिस आयुक्त पीएस कुशवाह के नेतृत्व में टीम दोपहर करीब 1.50 बजे घटना की जानकारी लेने के लिए सांसद के आवास पर गई। उनके साथ महिला पुलिस अधिकारी भी थीं।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (एसीपी) रैंक के अधिकारी के नेतृत्व में टीम कथित घटना का विवरण इकट्ठा करने के लिए मालीवाल के घर गई थी। मामले में उनका बयान रिकॉर्ड किया गया है।

राज्यसभा सदस्य स्वाति मालीवाल ने सोमवार को पहले फोन पर फिर पुलिस थाने में मौखिक शिकायत की थी कि दिल्ली के मुख्यमंत्री आवास में उनके साथ मारपीट हुई है। दिल्ली पुलिस ने रोजनामचा में स्वाति मालीवाल की शिकायत दर्ज की थी। इसमें स्वाति ने कहा, “मैं अभी सीएम के घर पर हूं। उन्होंने अपने पीए बिभव कुमार से मुझे बुरी तरह पिटवाया है।”

स्वाति मामले में सिविल लाइन थाने भी गईं थी। वहां से वे यह कहकर लौट आईं कि वे बाद में इसकी शिकायत करेंगी। इसके बाद से स्वाति मालीवाल को सार्वजनिक तौर पर न देखा गया है और न ही उनकी ओर से कोई बयान आया है।

इसी बीच दिल्ली भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष ऋचा पांडे मिश्रा और अन्य सदस्य भी उनसे मिलने की कोशिश में उनके आवास के बाहर पहुंचे। एक चैनल से बातचीत में स्वाति मालीवाल की मां ने बताया कि वे अभी किसी तरह से बातचीत करने की स्थिति में नहीं है।

राज्यसभा सदस्य स्वाति मालीवाल से मारपीट के मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग ने आज स्वत: संज्ञान लिया है। आयोग ने अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव बिभव कुमार को शुक्रवार को तलब किया है। इस मामले में महिला आयोग ने 17 मई को सुबह 11 बजे सुनवाई निर्धारित की है।

इसी बीच लखनऊ में समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव के साथ की गई पत्रकारवार्ता में अरविंद केजरीवाल ने मामले पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कुछ नहीं कहा। उन्होंने संजय सिंह को मामले में आगे किया। संजय सिंह ने सीधा कोई जवाब न देते हुए सांसद रेवन्ना और मणिपुर का मामला उठाने की कोशिश की।

संजय सिंह ने ही मुख्यमंत्री आवास में स्वाति के साथ दुर्व्यवहार की बात स्वीकार की थी। उन्होंने कहा था कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के संज्ञान में पूरा मामला है। वे बिभव कुमार पर कार्रवाई करेंगे। वहीं कल देर शाम लखनऊ एयरपोर्ट पर अरविंद केजरीवाल और संजय सिंह के साथ बिभव कुमार भी नजर आए।

भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने आरोप लगाया है कि स्पष्ट है कि स्वाति मालीवाल पर हमला खुद अरविंद केजरीवाल के इशारे पर किया गया था। वहीं भाजपा नेता मंजिदर सिंह सिरसा ने यह कह दिया है कि स्वाति मालीवाल को किसी और ने नहीं बल्कि मुख्यमंत्री की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने पिटवाया है। उन्हें यह जानकारी आम आदमी पार्टी के बड़े नेता ने दी है और वे बड़ी ज़िम्मेदारी के साथ ये बता रहे हैं। सिरसा ने कहा कि अपनी धर्मपत्नी को बचाने की ख़ातिर केजरीवाल अपने निजी सहायक बिभव कुमार के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं और न कर सकते हैं। सत्ता राजनीति में आने के बाद जैसा नैतिक पतन अरविन्द केजरीवाल का हुआ है, वैसा आज तक किसी का नहीं हुआ।

हिन्दुस्थान समाचार/ अनूप/जितेन्द्र

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story