वीएमएमसी और सफदरजंग अस्पताल के दीक्षांत समारोह में 210 स्नातकोत्तर छात्रों को दी गई डिग्नी

वीएमएमसी और सफदरजंग अस्पताल के दीक्षांत समारोह में 210 स्नातकोत्तर छात्रों को दी गई डिग्नी


नई दिल्ली, 16 मई (हि.स.)। वीएमएमसी और सफदरजंग अस्पताल के दीक्षांत समारोह में गुरुवार को 210 स्नातकोत्तर छात्रों को डिग्री दी गई। कोरोना काल के दौरान साल 2018, 2019 और 2020 में डिग्री नही दी जा सकी थी इसलिए गुरुवार को अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में आयोजित दीक्षांत समारोह में सभी 210 छात्रों को डिग्री दी गई। इस अवसर पर 36 मेधावी छात्रों को पदक प्रदान किए गए । इस अवसर पर आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ. राजीव बहल, जीजीएसआईपी विश्वविद्यालय के कुलपति महेश वर्मा उपस्थित थे।

मुख्य अतिथि डॉ. राजीव बहल ने कहा कि वीएमएमसी और सफदरजंग अस्पताल मेडिकल कॉलेजों में अग्रणी है। स्नातकोत्तर छात्रों को शोध के क्षेत्र में भी रुचि लेनी चाहिए। उन्होंने छात्रों को शोध करने के लिए प्रोत्साहित किया। वीएमएमसी की प्रधानाचार्य प्रोफेसर गीतिका खन्ना ने कहा कि संस्थान ने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने, प्रभावशाली अनुसंधान के लिए प्रतिष्ठित अवसर खोलने जैसे कई प्रमुख क्षेत्रों में उल्लेखनीय प्रगति करके उत्कृष्ट संस्थान के रूप में स्थापित किया है। इससे रोगी देखभाल के मानकों में वृद्धि होगी। ये ऐतिहासिक उपलब्धियां अत्यंत प्रेरित संकाय के कारण ही संभव हो सकीं।

वीएमएमसी और सफदरजंग अस्पताल की चिकित्सा अधीक्षक डॉ. वंदना तलवार ने अपने संबोधन में कहा कि चिकित्सा का क्षेत्र सिर्फ पेशा नहीं बल्कि सेवा भाव का क्षेत्र है। डॉक्टर और मरीज़ के बीच का रिश्ता स्नेह भाव का होना चाहिए। इसके लिए चिकित्सकों में न केवल ज्ञान और कौशल की आवश्यकता है, बल्कि सहानुभूति और भावनात्मक समर्थन प्रदान करने की भी आवश्यकता है।

हिन्दुस्थान समाचार/ विजयलक्ष्मी/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story