छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से भाजपा सांसद तोखन साहू को मिली मोदी मंत्रिमंडल में जगह

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से भाजपा सांसद तोखन साहू को मिली मोदी मंत्रिमंडल में जगह
छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से भाजपा सांसद तोखन साहू को मिली मोदी मंत्रिमंडल में जगह


रायपुर, 9 जून (हि.स.)।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मंत्रिमंडल में छत्तीसगढ़ से बिलासपुर भाजपा और वर्तमान में किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सांसद तोखन साहू को जगह मिली है। उनके गांव में खुशी की लहर है और जमकर आतिशबाजी की जा रही है।तोखन साहू ने 1 लाख 64 हजार 558 वोटों के बड़े अंतर कांग्रेस प्रत्याशी देवेंद्र यादव को हराया है. तोखन साहू को 7 लाख 24 हजार 937 मिले।वहीं देवेंद्र यादव को 5 लाख 60 हजार 379 वोट मिले।

तोखन साहू को भाजपा में एक जुझारु कार्यकर्ता और नेता के तौर पर जाना जाता है।तोखन साहू आज जब दिल्ली के छत्तीसगढ़ भवन पहुंचे तो बीजेपी नेताओं ने उनका भव्य स्वागत किया और उनको बधाई दी। किसान परिवार से आने वाले तोखन साहू वर्ष 2013 में पहली बार लोरमी विधानसभा सीट से विधायक चुने गए। बाद में रमन सिंह सरकार में उनको संसदीय सचिव का पद मिला। पार्टी ने उनकी प्रतिभा को देखते हुए उन्हें प्रत्याशी बनाया।वर्तमान में तोखन साहू किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष भी हैं।

वर्ष 1994 में राजनीति में एंट्री करने वाले तोखन साहू ने पंच पद से अपने राजनैतिक जीवन की शुरुआत की। तोखन साहू आंदोलन को खड़ा करने और उसे धार देने में वो माहिर हैं. साहू समाज से लेकर दूसरे जातियों में भी उनकी पैठ काफी अच्छी है। साल 2013 में वो लोरमी विधानसभा सीट से विधायक भी चुने गए।अपने कार्यकाल में उन्होने लोरमी के विकास की रुपरेखा तैयार की। तोखन साहू पर कोई भी आपराधिक मामला दर्ज नहीं है।

तोखन साहू का जन्म ग्राम डिंडौरी, जिला मुंगेली में 15 अक्टूबर 1969 को हुआ । उन्होंने एम. कॉम तक की शिक्षा ग्रहण की है। उनका विवाह लीलावती साहू से हुआ है। उनके एक पुत्र व एक पुत्री है। तोखन का राजनैतिक जीवन 1994 से शुरू हुआ। वे 1994 में लोरमी ब्लॉक के सुरजपुरा गांव के निर्विरोध पंच बने। 30 जनवरी 2005 को जनपद सदस्य ब्लॉक लोरमी क्षेत्र क्रमांक–18 फुलवारीकला बने। 3 फ़रवरी 2010 को महिला आरक्षण के चलते उनकी पत्नी लीलावती साहू चुनाव लड़कर जनपद सदस्य फिर 19 फ़रवरी 2010 को अध्यक्ष जनपद पंचायत लोरमी बनीं।

तोखन साहू 2012 में वे जिला सहकारी बैंक बिलासपुर के प्रतिनिधि बनें। जिला साहू समाज के संरक्षक भी वे रहे हैं। 2013 में भाजपा ने उन्हें लोरमी विधानसभा से टिकट देकर प्रत्याशी बनाया। उन्होंने कांग्रेस के प्रत्याशी और सिटिंग विधायक धर्मजीत सिंह को चुनाव हराया। 2015 में वे कृषि,मछलीपालन, पशुपालन, जलसंसाधन विभाग के संसदीय सचिव बने। 2014 में छत्तीसगढ़ वन्य जीव बोर्ड के सदस्य और 2015 में खैरागढ़ संगीत विश्वविद्यालय के सदस्य बने।2018 में उन्हें भाजपा ने दुबारा लोरमी विधानसभा से चुनाव मैदान में उतारा। पर जनता कांग्रेस के प्रत्याशी धर्मजीत सिंह ने उन्हें चुनाव हरा दिया। धर्मजीत सिंह ने 67742 वोट हासिल किए थे, । तोखन साहू प्रदेश पिछड़ा वर्ग मोर्चा के प्रदेश कार्य समिति सदस्य रहे। फिर प्रदेश किसान मोर्चा के प्रदेश कार्य समिति सदस्य बने। 2023 के विधानसभा चुनाव में बेमेतरा जिले की नवागढ़ विधानसभा के प्रभारी भी रहे। वर्तमान में प्रदेश भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष हैं।

हिन्दुस्थान समाचार /केशव शर्मा

हिन्दुस्थान समाचार/

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story