बंदी सिखों की रिहाई के समर्थन में आए केंद्रीय मंत्री शेखावत



अकाल तख्त जत्थेदार से बैठक कर भरा रिहाई को समर्थन फार्म

अकाली दल ने केंद्रीय मंत्री के फैसले का किया स्वागत

चंडीगढ़, 25 जनवरी (हि.स.)। पंजाब में बंदी सिखों की रिहाई को लेकर चल रहे आंदोलन ने बुधवार को उस समय नया मोड़ ले लिया, जब केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत ने इस मुहिम का समर्थन करते हुए फार्म पर हस्ताक्षर किए। अकाली दल ने केंद्रीय मंत्री की इस कार्रवाई का समर्थन किया है। फार्म पर हस्ताक्षर करने से पहले गजेंद्र शेखावत ने अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञान हरप्रीत सिंह से भी मुलाकात की।

पंजाब में पिछले लंबे समय से बंदी सिखों की रिहाई का मुद्दा छाया हुआ है। इसे लेकर कौमी इंसाफ मंच ने मोहाली में पक्का मोरचा लगाया गया है। शिरोमणि अकाली दल तथा शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी खुलकर बंदी सिखों की लड़ाई लड़ रहे हैं।

गजेंद्र शेखावत पंजाब भाजपा के प्रभारी एवं चुनाव प्रभारी भी रह चुके हैं। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर शेखावत पंजाब में लगातार सक्रिय हैं। इसी दौरान बुधवार को केंद्रीय मंत्री तलवंडी साबो स्थित तख्त दमदमा साहिब पहुंचे। जहां उन्होंने अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह से मुलाकात की। इसके बाद गजेंद्र शेखावत ने बंदी सिखों के लिए चलाई जा रही हस्ताक्षर मुहिम में हिस्सा लिया और फार्म भरकर समर्थन किया।

इसी दौरान शिरोमणि अकाली दल अध्यक्ष एवं पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल ने इसका स्वागत करते हुए कहा कि बंदी सिंघों की तत्काल रिहाई के लिए श्री अकाल तख्त साहिब के संरक्षण में चल रहे अभियान में शामिल होने के केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत के फैसले का स्वागत करते हैं और उनसे आग्रह करते हैं कि उनकी रिहाई के लिए आदेश जारी करके याचिका पर हस्ताक्षर करने की अपनी ईमानदारी को प्रदर्शित करें। सुखबीर बादल ने कहा कि वह गुरु साहिबान, अकाल तख्त साहिब और सिख संगत के उनके आशीर्वाद के लिए आभारी हैं जिसके कारण भारत सरकार के प्रतिनिधि ने औपचारिक रूप से हमारी मांग का समर्थन किया है।

हिन्दुस्थान समाचार/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story