मध्य प्रदेश के इंदौर, देवास और महू में लगे 'सर तन से जुदा' के नारे



मध्य प्रदेश के इंदौर, देवास और महू में लगे 'सर तन से जुदा' के नारे


मध्य प्रदेश के इंदौर, देवास और महू में लगे 'सर तन से जुदा' के नारे


भोपाल, 26 जनवरी (हि.स.)। मध्य प्रदेश में जहां एक ओर फिल्म पठान का विरोध हो रहा है तो दूसरी ओर इस फिल्म का विरोध करने के बहाने फिर कानून व्यवस्था को चुनौती दी जा रही है। अब कई स्थानों पर ''सर तन से जुदा'' के नारे खुलेआम सुनाई दिए । पहले की तरह इस बार भी बहाना एक ही है कि नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

दरअसल, देशभर में कई जगह अभिनेता शाहरुख खान की बुधवार को रिलीज हुई फिल्म 'पठान' का विरोध देखा गया। मुस्लिम समाज का कहना है कि इस दौरान इंदौर में बजरंग दल कार्यकर्ताओं के धर्म विशेष के खिलाफ नारे लगाने के विरोध में वे सड़कों पर उतरे हैं। इंदौर, देवास, धार में इस घटना का भारी विरोध करते हुए मुस्लिम समाज ने ''सर तन से जुदा'' के नारे खुलेतौर पर लगाए गए। अभी देर रात इसके दो वीडियो सोशल मीडिया पर विश्व हिन्दू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने जारी किए हैं। इसके साथ ही उन्होंने जानकारी दी कि देर रात जिहादी गैंग के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग को लेकर विश्व हिन्दू परिषद का एक उच्च स्तरीय राज्य प्रतिनिधिमंडल इंदौर में पुलिस के उच्चाधिकारियों से मिलने पहुंचा।

विनोद बंसद ने ट्वीट किया कि देश के स्वच्छतम शहर में भी लगा जिहादी कूड़े का ढेर.. शायद चौहान शिवराजजी या डॉ. नरोत्तम मिश्रा को पता ही नहीं कि उनके इंदौर में भी आज सर तन से जुदा गैंग सक्रिय हो गयी..इन सांपों का फन आज ही कुचलना जरूरी है..। इसके बाद उन्होंने इंदौर के खजराना क्षेत्र का एक अन्य वीडियो लो..एक और वीडियो... शीर्षक से पोस्ट किया। उसमें कहा, 'ये तो इंदौर के खजराना पुलिस थाने के सामने ही लगा रहे थे, सर तन से जुदा के नारे...हिन्दू कार्यकर्ताओं को जान से मारने की धमकी भी दी जा रहीं हैं.. । उन्होंने यह ट्वीट राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तथा गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को टैग किया है । इस संबंध में इंदौर शहर के पुलिस आयुक्त हरिनारायणचारी मिश्रा का कहना है कि बड़वाली चौकी क्षेत्र के कथित वीडियो के आधार पर उचित कानूनी प्रावधानों के तहत प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।

इस बीच महू में भी बुधवार रात करीब नौ बजे मुस्लिम समाज के लोगों ने एक रैली निकाली और कोतवाली थाने पहुंचे। यहां भी रैली में सर तन से जुदा, सर तन से जुदा... के नारे लगाने का वीडियो सामने आया है।

इसी प्रकार से देवास में भी विरोध देखने को मिला, जहां पर नमाज के बाद सैकड़ों की तादात में मुस्लिमों ने इकट्ठा होकर नारेबाजी और प्रदर्शन करते हुए 'गुस्ताख ए रसूल की एक ही सजा, सर तन से जुदा, सर तन से जुदा' के नारे लगाते हुए लोग दिखे। हालांकि, महू के एडिशनल एसपी शशिकांत कनकने का कहना है कि हमारे पास ऐसी कोई जानकारी नहीं आई है। इसके पूर्व दोपहर में भी मुस्लिम समाजजन ने रैली निकाली थी। यहां पर शहर काजी मुफ्ती मोहम्मद जाबिर ने एसपी और एसडीओपी के नाम ज्ञापन सौंपकर पैगंबर-ए-इस्लाम पर टिप्पणी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करते हुए उनके घर तोड़ने की मांग की गई थी ।

वहीं, मध्य प्रदेश के एक अन्य जिला देवास में पुलिस के मुताबिक सोशल मीडिया पर नमाज के बाद एसपी ऑफिस के सामने एकत्रित होने का आह्वान किया गया था। जिसके बाद इकट्ठे लोगों ने उग्र प्रदर्शन किया, जो करीब दो घंटे तक चला। यहां सबसे बड़ी घटना यह देखने में आई कि इस पूरे प्रदर्शन के दौरान विवादित सर तन से जुदा के भी नारे लगाए गए, जबकि इस समय प्रदर्शन के चलते शहर के थाने के प्रभारी, एएसपी, सीएसपी, डीएसपी समेत सैकड़ों की संख्या में पुलिस बल मौजूद था।

उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश में इस तरह से भारतीय संविधान एवं कानून व्यवस्था को सीधे चुनौती देने वाले नारे पहली बार नहीं लगे हैं, कुछ समय पूर्व ही खंडवा में जुलूस के दौरान विवादित नारे लगाए जाने का वीडियो सामने आ चुका है।

हिन्दुस्थान समाचार/डॉ. मयंक चतुर्वेदी/घनश्याम ढोंगरे

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story