राहुल गांधी और प्रियंका ने भगवान ओंकारेश्वर के किए दर्शन

राहुल गांधी और प्रियंका ने भगवान ओंकारेश्वर के किए दर्शन


राहुल गांधी और प्रियंका ने भगवान ओंकारेश्वर के किए दर्शन


राहुल गांधी और प्रियंका ने भगवान ओंकारेश्वर के किए दर्शन


- मां नर्मदा की आरती में हुए शामिल, चढ़ाई चुनरी

खंडवा, 25 नवंबर (हि.स.)। मध्यप्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा के तीसरे दिन शुक्रवार को राहुल गांधी ओंकारेश्वर पहुंचे। उनके साथ उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा भी थीं। राहुल और प्रियंका यहां मां नर्मदा की संध्या आरती में शामिल हुए। उन्होंने मां नर्मदा आरती की और मां नर्मदा को चुनरी भी चढ़ाई। इसके बाद उन्होंने ज्योतिर्लिंग भगवान ओंकारेश्वर के दर्शन किये और करीब पांच मिनट तक दोनों भाई-बहन ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर में रहे।

ओंकारेश्वर में राहुल गांधी धार्मिक रंग में रंगे नजर आए। उन्होंने सिर पर मेहरून कलर की पगड़ी पहनी थी। गले में माला नजर आई। साथ ही, ऊं लिखा पीले रंग का शॉल ओढ़ रखा था, जबकि प्रियंका गांधी वाड्रआ ने सिर पर चुनरी ओढ़ रखी थी। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और दिग्विजय सिंह समेत कांग्रेस के कई नेता और कार्यकर्ता मौजूद थे।

राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान शुक्रवार को कोई राजनीतिक बयान नहीं दिया, लेकिन उन्होंने ज्योतिर्लिंग ओंकारेश्वर के दर्शन और पूजन के साथ ही नर्मदा आरती और मां नर्मदा को चुनरी चढ़ाकर स्थानीय परंपरा का पालन करते हुए कांग्रेस के साफ्ट हिंदुत्व की ओर बढ़ते रुझान का संकेत जरूर दे दिया।

भारत जोड़ो यात्रा शुक्रवार सुबह खरगोन जिले के खेरदा गांव से शुरू हुई। करीब 10 किलोमीटर चलने के बाद भानबरड में मॉर्निंग ब्रेक हुआ। राहुल गांधी ने इस दौरान प्रदेश में सरकारी परियोजनाओं के कारण विस्थापित ग्रामीणों से भेंट कर उनकी समस्याएं सुनीं। उन्होंने कहा कि इनका पुनर्वास सरकार की जिम्मेदारी है, जिसे वह भूल गई है। राहुल गांधी ने कहा कि आपके यह आंसू व्यर्थ नहीं जाएंगे। हम साथ मिलकर आपके हक की लड़ाई लड़ेंगे और जीतेंगे।

यात्रा मॉर्निंग ब्रेक के बाद दोपहर करीब साढ़े 3 बजे खरगोन जिले के भानबरड से शुरू हुई। यात्रा में राहुल गांधी के साथ उनकी बहन प्रियंका गांधी और पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह समेत कई कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता साथ रहे। बॉक्सर विजेन्द्र सिंह भी यात्रा में पहुंचे। इस दौरान उन्होंने राहुल गांधी के साथ मुक्का दिखाते हुए सेल्फी ली। दोनों मूंछों पर ताव देते हुए भी नजर आए। यात्रा 23 किलोमीटर पैदल चलने के बाद अपने आखिरी पड़ाव सनावद पहुंची। यहां लोगों ने यात्रा का जोरदार स्वागत किया। यात्रा का रात्रि विश्राम मोरटक्का में है।

रात्रि विश्राम से पहले राहुल गांधी अपनी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ मोरटक्का से सीधे ओंकारेश्वर आ गए। पूजन के पहले वे ब्रह्मपुरी घाट पहुंचे और मां नर्मदा की आरती में शामिल हुए। भगवा उत्तरीय, गले में माला और पगड़ी पहने राहुल ने मंत्रोच्चार के बीच आरती शुरू की। राहुल के साथ बहन प्रियंका गांधी वाड्रा, उनके पति राबर्ट वाड्रा, बेटा रेहान, पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ और प्रदेश प्रभारी जेपी अग्रवाल भी थे। सिर पर तिलक सहित सभी विधिविधान के साथ पूजन किया। पूजन के पश्चात् मां रेवा को चुनरी भेंट कर पूजन किया। बाद में उन्होंने ज्योतिर्लिंग ओंकारेश्वर का दर्शन और पूजन किया।

राहुल ने ज्योतिर्लिंग के पूजन और मां नर्मदा की आरती में शामिल होकर साफ्ट हिंदुत्व की छवि को मजबूत किया। इससे पहले भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने जब प्रियंका गांधी वाड्रा इंदौर पहुंची थी तो उन्हें किसी ने माता की चुनरी भेंट की, जिसे उन्होंने सिर से लगाकर सम्मान के साथ गोद में रख लिया था। उनके पति राबर्ट वाड्रा भी महाकाल लिखी टीशर्ट पहने हुए थे।

पहली बार सबके साथ आरती की, मन प्रसन्न हैः प्रियंका

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि मैं पहली बार यहां आई हूं। यहां पूजन और नर्मदा आरती का अनुभव अद्भुत रहा। पहली बार हमने परिवार सहित नर्मदा आरती की है। मेरे साथ मेरे पति और भाई राहुल भी आरती में थे। यह खुशी की बात रही।

खेत में पैरामोटर गिरने से मचा हड़कंप

शुक्रवार को यात्रा के दौरान खेत में अचानक पैरामोटर गिर पड़ा। जिससे भगदड़ मचते-मचते बच गई। खरगोन पुलिस को बगैर बताए यात्रा के समर्थन में पैरामोटरिंग की जा रही थी। यात्रा शुरू होने के 4 किलोमीटर बाद पैरामोटर देख पुलिस ने उड़ान रुकवा दी। कुल 2 पैरामोटर उड़ने थे। एक यात्रा के ऊपर उड़ रहा था। दूसरा अचानक उड़ते ही खेत में गिर गया। इस पर पुलिस ने तुरंत रोक लगाई।

हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story