प्रधानमंत्री ने एनसीसी और एनएसएस कैडेट से विकसित भारत निर्माण में बड़ी भूमिका निभाने का किया आह्वान



प्रधानमंत्री ने एनसीसी और एनएसएस कैडेट से विकसित भारत निर्माण में बड़ी भूमिका निभाने का किया आह्वान


नई दिल्ली, 24 जनवरी (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को अपने आवास पर राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) और राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) के कैडेट के साथ बातचीत की। इस दौरान उन्होंने युवा स्वयंसेवकों से विकसित भारत के निर्माण में बड़ी भूमिका निभाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि युवाओं को विकसित भारत का सबसे ज्यादा लाभ मिलने वाला है और उनकी जिम्मेदारी भी सबसे ज्यादा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के युवाओं के पास आज अभूतपूर्व अवसर हैं। देश स्टार्टअप इंडिया, मेक इन इंडिया और आत्मनिर्भर भारत जैसे अभियान चला रहा है। अंतरिक्ष से लेकर पर्यावरण और जलवायु से जुड़ी चुनौतियों तक भारत आज पूरी दुनिया के भविष्य के लिए काम कर रहा है।

उन्होंने कहा कि एनसीसी और एनएसएस युवा पीढ़ी को राष्ट्रीय लक्ष्यों और सरोकारों से जोड़ते हैं। कोरोना काल में दोनों संगठनों के वॉलंटियर्स ने देश के सामर्थ्य को बढ़ाया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि युवाओं को जी20 पर स्कूल, कॉलेज में चर्चा करनी चाहिए। इस समय देश अपनी विरासत पर गर्व और गुलामी की मानसिकता से मुक्ति का संकल्प लेकर आगे बढ़ रहा है। इस साल भारत जी-20 की अध्यक्षता कर रहा है। भारत के लिए यह एक बड़ा अवसर है।

प्रधानमंत्री ने युवाओं से परिवार और दोस्तों के साथ अमृत सरोवर पहल में योगदान देने का आह्वान किया। उन्होंने बताया कि देशभर में कुल 75 अमृत सरोवरों की स्थापना की जा रही है। उन्हें अपने परिवार, दोस्तों और पड़ोसियों के साथ अमृत सरोवर पर जाकर आनंद लेना चाहिए।

प्रधानमंत्री ने युवा स्वयंसेवकों से देश की महान पारंपरिक प्रथाओं को अपनाने और उन्हें संजोने को कहा। उन्होंने कहा कि युवाओं को योग का अभ्यास करना चाहिए, एक स्वस्थ जीवन शैली जीनी चाहिए । आपको पर्यावरण की रक्षा और अधिक से अधिक पेड़ लगाना सुनिश्चित करना चाहिए।

हिन्दुस्थान समाचार/अनूप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story