केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने खेल संघों में राजनीतिक हस्तक्षेत्र को किया खारिज

केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने खेल संघों में राजनीतिक हस्तक्षेत्र को किया खारिज


केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने खेल संघों में राजनीतिक हस्तक्षेत्र को किया खारिज


जबलपुर, 23 जनवरी (हि.स.)। सांसद खेल महोत्सव के समापन समारोह में शामिल होने के लिए जबलपुर पहुंचे केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने खेल संघों में राजनीतिक हस्तक्षेप के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा है कि मौजूदा दौर में खेल संघों से राजनीति को अलग किया गया है। अब केवल खिलाड़ियों को ही खेल संघों और समितियों में जगह दी जा रही है। इस दौरान उन्होंने कई खेल संघों और उनके खिलाड़ी पदाधिकारियों का भी जिक्र किया।

दरअसल, जबलपुर में पिछले 12 दिनों से चल रहा सांसद खेल महोत्सव का सोमवार को केन्द्रीय खेल एवं युवा मामलों के मंत्री अनुराग ठाकुर के मुख्य आतिथ्य में समापन हुआ। इस मौके पर केंद्रीय खेल मंत्री ठाकुर का एक अलग ही अंदाज नजर आया। उन्होंने यहां विभिन्न खेलों में भाग लेकर खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाया। उन्होंने खेल महोत्सव में परंपरागत खेलों का आनंद भी उठाया और क्रिकेट के मैदान पर जमकर चौके-छक्के भी लगाए।

कार्यक्रम में उन्होंने भारतीय कुश्ती संघ और खिलाड़ियों के बीच चल रहे विवाद पर कहा कि मामले में केंद्र सरकार ने हस्तक्षेप किया है। जिन खिलाड़ियों ने आरोप लगाए हैं, उसे लेकर एक पांच सदस्यीय जांच कमेटी बनाई है, जिसकी अध्यक्ष मेरीकॉम होंगी। उन्होंने कहा कि ये कमेटी एक माह में अपनी जांच रिपोर्ट पेश करेगी और रिपोर्ट आने के बाद इस पर फैसला किया जाएगा, तब तक रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष अपने पद पर काम नहीं करेंगे।

भारत पाकिस्तान क्रिकेट सीरीज पर खेल मंत्री ठाकुर ने सरकार का रुख भी साफ करते हुए कहा है कि यह मसला बीसीसीआई का है, लेकिन आतंकवाद को बढ़ावा मिलने के कारण ही भारत-पाकिस्तान के बीच मैच न कराने का निर्णय लिया गया था। उन्होंने साफ किया है कि खेल में भी जन भावनाओं का ध्यान रखना पड़ता है। उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बिना कहा कि भारत में होने वाले क्रिकेट के विश्व कप में दुनिया की सभी टीमें भाग लेंगी। पहले भी ऐसे आयोजनों में दुनिया की सभी टीमें शामिल हुई।

उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों की सराहना करते हुए कहा कि पैरा ओलंपिक, डेफ ओलंपिक में हमने बेहतर प्रदर्शन किया है। 2016 में ओलंपिक में केवल दो मैडल मिले थे और 2022 में सात मैडल मिले हैं। अगले साल हम खेलकूद की सुविधाओं में बढ़ोतरी करवाएंगे। मैं देश के कई खेलकूद कार्यक्रम में गया, लेकिन इतने पारंपरिक खेल मैंने आज जबलपुर में देखे। केंद्रीय मंत्री ने कार्यक्रम में खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन कर विजेताओं को पुरस्कृत किया। सांसद खेल महोत्सव में 28 हजार से अधिक खिलाड़ियों ने भाग लिया।

केंद्रीय मंत्री ठाकुर ने कहा कि आज खेलो इंडिया का बजट दो हज़ार करोड़ से ज़्यादा का है। हम एक हज़ार खेलो इंडिया के सेंटर इस साल बनाकर पूरा कर देंगे। हर सेंटर को चलाने पूर्व खिलाड़ी को पांच लाख रुपये की राशि दी जाएगी। खेलो इंडिया गेम का आयोजन इस साल मध्यप्रदेश को मिला है। मोदी सरकार ने खेलो इंडिया को बढ़ाने का अभूतपूर्व काम किया है।

इससे पहले केंद्रीय मंत्री ठाकुर आकाशवाणी में पहुंचे, जहां उन्होंने विभागों का निरीक्षण कर बदहाल व्यवस्था पर नाराजगी जताई। उन्होंने हर कक्ष के मुआयना किया और खराब गाड़ियां कबाड़ और साफ सफाई नहीं होने पर सवाल जवाब किए। उन्होंने पूरी व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश / डा. मयंक

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story