हूती विद्रोहियों के हमले में बाल बाल बचा भारतीय मालवाहक जहाज

दुबई, 14 दिसंबर (हि.स.)। भारतीय मालवाहक जहाज हूती विद्रोहियों के हमले में बाल बाल बच गया। यह हमला हूती विद्रोहियों के कब्जे वाले यमन वाले इलाके बॉब अल मंडेब स्ट्रेट से निशाना बनाकर जेट ईंधन से भरा वाणिज्यिक टैंकर ले जा रहे भारतीय मालवाहक जहाज पर दो मिसाइलें दागी थीं। यह पहला मामला है, जब ईंधन ले जाने वाले किसी जहाज को निशाना बनाने की कोशिश की गई। इसे लेकर हूती की ओर से तत्काल कोई टिप्पणी नहीं की गई है।

बता दें कि भारतीय मालवाहक जहाज कर्नाटक के मेंगलुरु से रवाना हुआ था। यह लाल सागर में उत्तर की ओर से स्वेज कैनाल की ओर बढ़ रहा था। जहाज पर हथियारबंद सुरक्षा कर्मी तैनात थे। निजी खुफिया फर्म एमब्रे का कहना है, उस पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने छोटे बोट पर हथियारों से लैस लोगों को जहाज पर चढ़ने से रोकने के लिए फायरिंग भी की।

आर्डमोर शिपिंग कारपोरेशन का कहना है कि कोई भी जहाज पर चढ़ने में कामयाब नहीं हो पाया। सभी क्रू मेंबर सुरक्षित हैं। जहाज में भी किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं आई है। दूसरी ओर अपनी ओर आ रहे संदिग्ध हूती ड्रोन को अमेरिकी युद्धपोत ने मार गिराया है। एक अधिकारी ने कहा कि इस हमले में किसी को नुकसान नहीं पहुंचा है।

ब्रिटिश सेना के यूनाइटेड किंगडम मैरीटाइम ट्रेड ऑपरेशंस ने पहले ओमान के तट पर एक अलग घटना की सूचना दी थी। इसमें कहा गया कि मशीनगनों से तैनात भूरे रंग की वर्दी पहने हुए लोगों ने छोटी नांवों की मदद से जहाज का पीछा किया।

हिन्दुस्थान समाचार/अजीत तिवारी/आकाश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story