...जब उड़ते हुए विमान की खिड़की में लगा शीशा बाहर गिर गया

...जब उड़ते हुए विमान की खिड़की में लगा शीशा बाहर गिर गया
...जब उड़ते हुए विमान की खिड़की में लगा शीशा बाहर गिर गया


काठमांडू, 10 दिसम्बर (हि.स.)। नेपाल में रविवार को एक विमान हादसे का शिकार होते-होते बच गया। लुक्ला एयरपोर्ट पर विमान के लैंड होने के बाद पायलट को विमान की खिड़की का शीशा नदारद होने के बारे में पता चला। विमान के भीतर और रनवे पर खिड़की का शीशा ढूंढा गया, लेकिन कहीं भी नहीं मिला। इस पर अनुमान लगाया गया कि बीच उड़ान में कहीं शीशा गिर गया होगा।

नागरिक उड्डययन प्राधिकरण के प्रवक्ता सुभाष झा ने बताया कि काठमांडू से खाद्यान्न सामग्री और कुछ यात्रियों के साथ तारा एयर के विमान ने रविवार सुबह लुक्ला के लिए उड़ान भरी। जब यह विमान लुक्ला एयरपोर्ट पर लैंड हुआ तो पायलट और ग्राउंड स्टाफ को विमान के इमरजेंसी गेट की खिड़की का शीशा नहीं दिखा। प्रवक्ता झा ने बताया कि 1126 किलो सामग्री के साथ क्रू मेंबर सहित 5 लोग उस विमान में यात्रा कर रहे थे। विमान की खिड़की का शीशा नहीं मिलने के बाद पायलट और ग्राउंड स्टाफ के होश उड़ गए।

नेपाल के वरिष्ठ पायलट विजय लामा ने कहा कि खिड़की का शीशा टूटकर गिरने के बाद कोई भी हादसा हो सकता था, लेकिन विमान के लुक्ला एयरपोर्ट पर सकुशल लैंडिंग हो गई है और क्रू मेंबर सहित किसी भी यात्री को कोई चोटें नहीं आई। लुक्ला एयरपोर्ट पर विमान लैंडिंग के बाद खिड़की के शीशा गिरने के अनुमान में रनवे से लेकर टैक्सी वे और पार्किंग तक में शीशा ढूंढा गया, लेकिन कहीं भी नहीं मिला। फिलहाल विमान को लुक्ला विमानस्थल पर ही रोक कर रखा गया है।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज दास/सुनीत

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story