संयुक्त राष्ट्र के महासचिव गुटेरस नेपाल में राजनीतिक मुलाकातों में व्यस्त, कल संसद को करेंगे संबोधित

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव गुटेरस नेपाल में राजनीतिक मुलाकातों में व्यस्त, कल संसद को करेंगे संबोधित


संयुक्त राष्ट्र के महासचिव गुटेरस नेपाल में राजनीतिक मुलाकातों में व्यस्त, कल संसद को करेंगे संबोधित


काठमांडू, 30 अक्टूबर (हि.स.)। नेपाल के चार दिवसीय दौरे पर आए संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरस राजनीतिक मुलाकातों में व्यस्त हैं। उन्होंने नेपाल के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, विपक्षी दल के नेता सहित प्रमुख दल के शीर्ष नेताओं से मुलाकात की है। उनकी बातचीत का प्रमुख एजेंडा नेपाल की जारी शांति प्रक्रिया को निष्कर्ष तक पहुंचाना है।

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव गुटेरस की राष्ट्रपति रामचन्द्र पौडेल से शिष्टाचार मुलाकात हुई। राष्ट्रपति भवन शीतल निवास में हुई मुलाकात के दौरान पौडेल ने इजरायल गमास युद्ध में मानवाधिकार संबंधी मुद्दों पर उनकी राय जाननी चाही। साथ ही जलवायु परिवर्तन और उससे वैश्विक रूप से हो रहे असर पर संयुक्त राष्ट्र की भूमिका को और अधिक सक्रिय करने पर जोर दिया।

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव ने प्रधानमंत्री पुष्पकमल दाहाल प्रचंड से भी मुलाकात कर विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। इनमें विशेष रूप से नेपाल की शांति प्रक्रिया से जुड़े विषय प्रमुख रहे। इस मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री प्रचंड और महासचिव गुटेरस ने संयुक्त रूप से पत्रकार सम्मेलन को संबोधित भी किया।

प्रधानमंत्री प्रचंड ने आश्वासन दिया कि शांति प्रक्रिया से जुड़े बाकी कामों को जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि नेपाल में चले 10 वर्षों के द्वंद्व समय के पीड़ितों को न्याय दिया जाएगा। अपने अधिकार के लिए लड़ने वालों के आत्म सम्मान पर ठेस ना पहुंचे, इस प्रकार का कानून भी लाया जाएगा।संयुक्त राष्ट्र के महासचिव गुटेरस ने कहा कि शांति प्रक्रिया को पूरा करते समय यह अवश्य ध्यान में रखना चाहिए कि किसी भी पीड़ित के साथ अन्याय ना हो। उन्होंने यह भी कहा कि गम्भीर मानवाधिकार उल्लंघन मामले में दोषियों को आममाफी नहीं दी जाएगी। गुटेरस ने कहा कि यदि नेपाल चाहे, तो संयुक्त राष्ट्र इसमें मध्यस्थता की भूमिका निर्वाह कर सकता है।

महासचिव गुटेरस ने नेपाल के प्रमुख दल के नेताओं से भी मुलाकात की। इनमें नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष शेरबहादुर देउवा, विपक्षी दल के नेता के पी शर्मा ओली प्रमुख थे। इसके अलावा नेपाल के रक्षा मंत्री पूर्ण बहादुर खड्का, गृहमंत्री नारायणकाजी श्रेष्ठ तथा विदेश मंत्री एन पी साउद से भी उनकी मुलाकात हुई। ओली ने गुटेरस से मुलाकात में कहा कि नेपाल की शांति प्रक्रिया अपने मौलिक प्रकृति की है और इसे आपसी सहमति से ही राजनीतिक दलों के बीच आम सहमति बना कर पूरा किया जाएगा। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र सहित किसी भी मध्यस्थता की जरूरत नहीं रहने की बात कही।

नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्पकमल दाहाल प्रचंड ने महासचिव गुटेरस के सम्मान में रात्रिभोज का आयोजन किया था। गुटेरस ने संयुक्त राष्ट्र शांति सेना में नेपाली सेना के भूमिका की उच्च प्रशंसा की। गुटेरस सोमवार को पोखरा में हैं और वह मंगलवार को अन्नपूर्ण बेस कैंप का दौरा करने जायेंगे। वह मंगलवार को काठमांडू में संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगे।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज दास/सुनीत

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story