रूसी ड्रोन के भीषण आक्रमण से यूक्रेन के मीकोलेव के होटल और बिजलीघर को नुकसान

कीव, 29 अप्रैल (हि. स.)। रूस ने रविवार को काला सागर के किनारे बसे यूक्रेनी शहर मीकोलेव पर भीषण ड्रोन हमला किया। इस हमले में एक होटल में आग लग गई और एक बिजलीघर को नुकसान हुआ है। इसी बीच पूर्वी यूक्रेन में भीषण लड़ाई की सूचना है। ज्ञात रहे कि दोनों देशों के बीच दो साल से अधिक समय से युद्ध जारी है।

रूसी हमले के कारण यूक्रेनी सेना को कम से कम तीन युद्ध क्षेत्रों में पीछे हटना पड़ा है। इससे कुछ नए इलाके रूसी सेना के कब्जे में जाने का खतरा पैदा हो गया है। इस दौरान यूक्रेनी सेना की गोलाबारी में जपोरीजिया इलाके में तीन नागरिकों के मारे जाने की सूचना है।

मीकोलेव प्रांत के गर्वनर विटाली किम ने बताया है कि रूसी हमले में प्रांतीय राजधानी में स्थित होटल को भारी नुकसान हुआ है। साथ ही शहर के ऊर्जा उत्पादक संयंत्र को भी नुकसान हुआ है, लेकिन इन हमलों में किसी की मौत नहीं हुई है। जबकि रूस की सरकारी समाचार एजेंसी आरआइए ने कहा है कि रूसी सेना ने मीकोलेव में समुद्री ड्रोन तैयार करने वाले ठिकाने पर हमला किया। इस हमले में वह होटल भी निशाना बना है जिसमें अंग्रेजी बोलने वाले विदेशी नाविक और कर्मी रहते थे। ये सभी युद्ध में यूक्रेन की ओर से लड़ते हैं।

रूस के रक्षा मंत्रालय ने बताया है कि शनिवार-रविवार की रात देश के दक्षिण-पश्चिम भाग में यूक्रेन के 17 हमलावर ड्रोन को हवा में नष्ट किया। ये ड्रोन रूसी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से भेजे गए थे। कोई भी ड्रोन रूस को जान-माल का नुकसान पहुंचाने में सफल नहीं हुआ।

इस बीच रूसी गोलाबारी में यूक्रेन के विभिन्न इलाकों में सात नागरिक घायल हुए हैं। इन दिनों डोनेस्क और खार्कीव के इलाकों में लड़ाई चल रही है। यूक्रेन की सेना गोला-बारूद की कमी झेल रही है। इसके चलते वह केवल अपनी जमीन को बचाने के लिए ही लड़ाई लड़ रही है। इससे पहले रूस के कब्जे में जा चुके क्षेत्र को यूक्रेन मुक्त नहीं करा पा रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार/ अजीत तिवारी/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story