राष्ट्रपति चुनाव में एकतरफा जीत के बाद पुतिन रूस पर छह साल और शासन करने को तैयार

राष्ट्रपति चुनाव में एकतरफा जीत के बाद पुतिन रूस पर छह साल और शासन करने को तैयार
राष्ट्रपति चुनाव में एकतरफा जीत के बाद पुतिन रूस पर छह साल और शासन करने को तैयार


राष्ट्रपति चुनाव में एकतरफा जीत के बाद पुतिन रूस पर छह साल और शासन करने को तैयार


मॉस्को, 17 मार्च (हि.स.)। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन रविवार को एकतरफा राष्ट्रपति चुनाव सम्पन्न होने के बाद और छह साल तक शासन करने के लिए तैयार हैं। पुतिन का सत्ता पर करीब 25 साल से कब्जा है। आलोचकों के मुताबिक रूस के चुनाव में मतदाताओं को निरंकुश शासक के खिलाफ कोई वास्तविक विकल्प नहीं दिया गया।

रूस में तीन दिवसीय राष्ट्रपति चुनाव शुक्रवार को बेहद नियंत्रित माहौल में शुरू हुआ, जहां पुतिन या यूक्रेन के साथ युद्ध को लेकर उनकी सार्वजनिक आलोचना की अनुमति नहीं थी। पुतिन के सबसे कट्टर राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी एलेक्सी नवलनी की पिछले महीने आर्कटिक जेल में मौत हो गई और अन्य आलोचक या तो जेल में हैं या निर्वासन में हैं।

पुतिन (71) को क्रेमलिन-अनुकूल पार्टियों के तीन प्रतीकात्मक प्रतिद्वंद्वियों का सामना करना पड़ रहा है, जिन्होंने उनके 24 साल के शासन या दो साल पहले यूक्रेन पर उनके आक्रमण की किसी भी आलोचना से परहेज किया है। उन्होंने चुनाव से पहले युद्धक्षेत्र में रूस की सफलता का दावा किया, लेकिन रविवार तड़के पूरे रूस में बड़े पैमाने पर यूक्रेनी ड्रोन हमले ने मॉस्को के सामने आने वाली चुनौतियों की याद दिला दी।

रूस के रक्षा मंत्रालय ने रातभर में 35 यूक्रेनी ड्रोन को मार गिराने का दावा किया, जिनमें से चार रूस की राजधानी मॉस्को के पास मार गिराए गए। मॉस्को के महापौर सर्गेई सोबयानिन ने कहा कि कोई हताहत या क्षति नहीं हुई है।

रूस के बिखरे हुए विपक्ष ने पुतिन या युद्ध से नाखुश लोगों से रविवार को दोपहर में मतदान में आकर अपना विरोध व्यक्त करने का आग्रह किया है। इस कार्रवाई का नवलनी ने अपनी मृत्यु से कुछ समय पहले ही समर्थन किया था। नवलनी के सहयोगियों ने रूस के विभिन्न शहरों में मतदान केंद्रों के पास भीड़ की तस्वीरें और वीडियो जारी करते हुए अपनी रणनीति को सफल बताया। यह तुरंत स्पष्ट नहीं हुआ कि क्या मतदान केंद्रों पर कतार में खड़े मतदाता नवलनी के सहयोगियों के आह्वान पर आए हैं या यह जबर्दस्त मतदान को प्रतिबिंबित करता है, जो आमतौर पर दोपहर के आसपास चरम पर होता है।

हिन्दुस्थान समाचार/अजीत तिवारी/आकाश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story