नेपाल : ईसाई धर्म नहीं मानने वाले को जेल भेजने का बयान देने वाले मंत्री को बर्खास्त करने की मांग

नेपाल : ईसाई धर्म नहीं मानने वाले को जेल भेजने का बयान देने वाले मंत्री को बर्खास्त करने की मांग


नेपाल : ईसाई धर्म नहीं मानने वाले को जेल भेजने का बयान देने वाले मंत्री को बर्खास्त करने की मांग


काठमांडू, 25 दिसम्बर (हि.स.)। ईसाई धर्म नहीं मानने वालों को जेल में डालने की धमकी देने वाले नेपाल के संस्कृति तथा पर्यटन मंत्री सुदन किरांती को बर्खास्त करने की मांग करते हुए धार्मिक तथा सामाजिक संस्थाओं ने विरोध प्रदर्शन किया। क्रिसमस के दिन ही सनातन धर्म और ॐकार परिवार से जुड़ी संघ संस्थाओं की तरफ से यह विरोध प्रदर्शन हो रहा है।

मंत्री किरांती को बर्खास्त करने की मांग को लेकर आज संसद भवन का घेराव किया गया। काठमांडू के पशुपतिनाथ मंदिर से निकले इस विरोध प्रदर्शन नयां बानेश्वर स्थित संसद भवन तक गया था। प्रदर्शनकारियों ने तरह-तरह के नारे लगाए और शंख बजाकर मंत्री किरंती के इस्तीफे की मांग करते हुए प्रदर्शन किया।

गत बुधवार को क्रिसमस पर आयोजित एक कार्यक्रम में मंत्री सुदन किरांती ने आपत्तिजनक बयान देते हुए कहा था कि जो लोग क्रिश्चियन को नहीं मानते वो संविधान विरोधी हैं और संविधान विरोधियों को हथकड़ी लगाकर जेल में बन्द कर देना चाहिए। मंत्री के इस विवादित बयान पर समाज के सभी तबके द्वारा विरोध किया जा रहा है। कई राजनीतिक दलों ने भी किरांती के बयान का विरोध करते हुए उन्हें तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज दास /प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story