सीरियाई सरकार समर्थक मिलिशिया पर आईएस समूह के हमले में 21 लड़ाके ढेर



बेरूत, 08 नवंबर (हि.स.)। पूर्वी सीरिया में मंगलवार रात सरकार समर्थक लड़ाकों पर इस्लामिक स्टेट समूह ने घात लगाकर हमला किया, जिसमें 21 लड़ाके मारे गए। यह जानकारी सरकार समर्थक मीडिया और एक विपक्षी युद्ध निगरानी संस्था ने बुधवार को दी।

रिपोर्ट के अनुसार सरकार समर्थक नेशनल डिफेंस प्लेसेज के लड़ाकों पर मध्य सीरियाई रेगिस्तान में सरकार के नियंत्रण वाले होम्स और रक्का शहर के बीच अल-कौम गांव में घात लगाकर हमला किया गया।

वहीं युद्ध निगरानी संस्था ‘सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स’ ने भी हमले के लिए आईएस को दोषी ठहराया, लेकिन मरने वालों की संख्या अधिक बताई और कहा कि इसमें 34 लड़ाके मारे गए हैं। ऐसे हमलों के बाद हताहतों की संख्या अलग-अलग होना आम बात है।

सीरियाई अधिकारियों ने हमले पर तुरंत कोई टिप्पणी नहीं की और आईएस की ओर से हमले की जिम्मेदारी का तत्काल कोई दावा नहीं किया गया। यह हमला ऐसे समय हुआ है जब सीरिया में अन्य जगहों पर हिंसा बढ़ रही है। देश के उत्तर-पश्चिम में विपक्ष के कब्जे वाले इलाके में पिछले महीने सीरियाई सेना और रूसी सहयोगियों द्वारा गोलाबारी और हवाई हमले देखे गए हैं और ईरान समर्थित इराकी चरमपंथी समूह नियमित रूप से पूर्वी और दक्षिणी सीरिया में अमेरिकी ठिकानों पर हमले करता रहता है।

हिन्दुस्थान समाचार/अजीत तिवारी/आकाश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story