नेपाल इन्वेस्टमेंट समिट में बोले पीयूष गोयल- नेपाल के विकास में भारत का योगदान अतुलनीय



काठमांडू, 28 अप्रैल (हि.स.)। भारत सरकार के उद्योग वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को नेपाल इंवेस्टमेंट समिट 2024 को वर्चुअली सम्बोधित करते हुए कहा कि नेपाल के चौतरफा विकास में भारत हमेशा ही तत्पर रहता है। भारत सरकार नेवरहुड फर्स्ट पॉलिसी के तहत हमेशा ही अपने पड़ोसी देशों के हर सुख-दुख में शामिल होने के साथ उनके विकास में भी साझेदार बनती है।

गोयल ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए इंवेस्टमेंट समिट के उद्घाटन सत्र को सम्बोधित कर रहे थे। गोयल ने कहा कि नेपाल भारत का सबसे निकट का पड़ोसी है, जिसके साथ हम ना सिर्फ खुली सीमा से जुड़े हैं, बल्कि सदियों पुरानी सभ्यता और संस्कृति से भी जुड़े हुए हैं। मंत्री गोयल ने कहा कि नेपाल के विकास में हम हमेशा ही सच्चे और विश्वसनीय मित्र की तरह साथ रहते हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह से नेपाल और भारत का रिश्ता हिमालय की तरह अटल है, उसी तरह नेपाल के विकास साझेदार के रूप में उसी तरह साथ खड़े रहते हैं।

इंवेस्टमेंट समिट को संबोधित करते हुए नेपाल में भारत के राजदूत नवीन श्रीवास्तव ने कहा कि भारत और नेपाल में सभी तरह के विकास सबसे अव्वल है। उन्होंने कहा कि नेपाल और भारत की व्यापारिक साझेदारी और नेपाल के विकास में भारत के योगदान की किसी अन्य देशों के साथ तुलना नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि नेपाल के अर्थतंत्र में सर्वाधिक सहयोग करने वाला हाइड्रो पावर में सर्वाधिक निवेश भारत का है तो नेपाल के पर्यटन में सर्वाधिक योगदान भारतीय लोगों का ही है।

भारतीय राजदूत ने कहा कि नेपाल के साथ जब भी विकास और व्यापार साझेदारी की बात होती है तो उसमें कभी भी फायदे या नुकसान की बात नहीं देखी जाती है। उन्होंने कहा कि नेपाल हमेशा हमारी प्राथमिकता में रहता है और नेपाल की आर्थिक प्रगति में हमारा हर तरह का सहयोग रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज दास/सुनीत

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story