पाकिस्तान में रोटी के पड़ सकते हैं लाले, आटे की कीमत 140 रुपये प्रतिकिलो



इस्लामाबाद, 07 नवंबर (हि.स.)। पाकिस्तान में महंगाई की मार से जूझ रही आम जनता को रोटी के लाले पड़ सकते हैं। देश की खस्ताहाल आर्थिक हालात के बीच मिल मालिकों ने आटे के थोक दाम में प्रतिकिलो 5 रुपये की बढ़ोतरी कर दी है। सरगोधा के मिल मालिकों ने आटे की 20 किलो की बोरी की कीमत में 100 रुपये की बढ़ोतरी कर दी है।

जानकारी के मुताबिक आटे के दाम में बढ़ोतरी के बाद 20 किलो की बोरी की कीमत 2800 रुपये हो गई है। आटा मिल मालिक संघ के अध्यक्ष मियां मुहम्मद नसीम हसन और राव साजिद महमूद ने कहा है कि कार्यवाहक सरकार की खराब नीतियों के कारण मिल को अभी तक गेहूं का कोटा उपलब्ध नहीं कराया गया है। यही कारण है कि हमें निजी स्तर पर अधिक कीमत पर गेहूं खरीदना पड़ रहा है।

मिल मालिकों ने खाद्यान्न विभाग से गेहूं का कोटा जारी करने की मांग की है। संघ ने चेतावनी दी है कि यदि सरकार आधिकारिक कोटा जारी नहीं करती है तो गेहूं आपूर्ति के अभाव में आटे की कीमत प्रति बोरी और 50 से 100 रुपये तक बढ़ सकती है। मिल मालिक ऊंची कीमत पर गेहूं खरीदकर सरकारी दर पर आटा नहीं बेच सकते।

हिन्दुस्थान समाचार/अजीत तिवारी/आकाश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story