नेपाल सरकार ने भूकम्प पुनर्निर्माण के लिए बनाया एक हजार करोड़ का राहत कोष, अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से मांगी मदद

नेपाल सरकार ने भूकम्प पुनर्निर्माण के लिए बनाया एक हजार करोड़ का राहत कोष, अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से मांगी मदद
नेपाल सरकार ने भूकम्प पुनर्निर्माण के लिए बनाया एक हजार करोड़ का राहत कोष, अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से मांगी मदद


काठमांडू, 13 नवंबर (हि.स)। नेपाल में 3 नवम्बर को आए विनाशकारी भूकम्प के बाद पुनर्निर्माण के लिए सरकार ने 1000 करोड़ रुपये का राहत कोष बनाया है। जाजरकोट को केन्द्र विन्दु बनाकर आए भूकम्प के बाद पुनर्निर्माण में सहयोग करने के लिए सरकार ने अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से मदद की अपील की है।

प्रधानमंत्री पुष्पकमल दाहाल प्रचण्ड की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में यह राहत कोष बनाने का फैसला किया गया है। बैठक के फैसले की जानकारी देते हुए सरकार की प्रवक्ता तथा सूचना व संचार मंत्री रेखा शर्मा ने बताया कि जाजरकोट और रूकुम पश्चिम में भूकम्प से हुई भारी क्षति के बाद इसके पुनर्निर्माण के लिए सरकार ने 1000 करोड़ रुपये का राहत कोष बनाने का निर्णय किया है।

सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि राहत कोष के लिए सरकार ने सांसदों के संसदीय विकास कोष के फंड को लेने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि 1000 करोड़ रुपये के इस राहत कोष में संसदीय विकास कोष के 820 करोड़ रुपये और बाकी रुपये अन्य स्रोत से जुटाने पर सैद्धान्तिक सहमति हुई है।

सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक प्रधानमंत्री की तरफ से भूकम्प के पुनर्निर्माण के लिए अन्तरराष्ट्रीय समुदाय से अपील की जाएगी। नेपाल को सहयोग करने वाले देशों और अन्य दातृ निकायों को प्रधानमंत्री की तरफ से पत्र भेजकर भूकम्प पुनर्निर्माण में सहयोग करने के लिए आग्रह किए जाने का भी फैसला कैबिनेट ने किया है।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज दास /दधिबल

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story