नेपाल में सोने की तस्करी मामले में पुलिस के दो पूर्व प्रमुख भी जांच के दायरे में



काठमांडू, 17 मार्च (हि.स.)। नेपाल में सौ किलो सोने की तस्करी मामले में पुलिस के दो पूर्व प्रमुख भी जांच के दायरे में हैं। इस मामले की जांच प्रक्रिया आगे बढ़ाने के साथ ही पुलिस के इन दोनों दो पूर्व प्रमुखों के खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया है।

इस मामले की जांच रिपोर्ट में नेपाल पुलिस के दो पूर्व प्रमुखों- आईजीपी सर्वेन्द्र खनाल और धीरज प्रताप सिंह जांच के घेरे में हैं। उन दोनों के निवास को पुलिस और सीआईबी की टीम ने घेराबंदी कर उन पर निगरानी रखे हुए है। सीआईबी का चार्ज संभालने वाले एआईजी श्याम ज्ञवाली ने रविवार को बताया कि प्रधानमंत्री और गृहमंत्री का स्पष्ट निर्देश है कि इस मामले के सभी दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही आगे बढ़ाई जाए। जांच रिपोर्ट में दोनों पूर्व पुलिस प्रमुख की भूमिका पर सवाल खड़ा किया गया है इसलिए दोनों पर निगरानी रखी जा रही है। ज्ञवाली ने इस बात के भी संकेत दिए हैं कि दोनों की कभी भी गिरफ्तारी की जा सकती है।

इस मामले में सीपीएन (एमसी) के उपाध्यक्ष कृष्ण बहादुर महरा के खिलाफ मुकदमा चलाने की तैयारी की जा रही है। सीआईबी की तरफ से जल्द ही कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की जाएगी। इस मामले में सीपीएन (एमसी) के नेता एवं पूर्व उपराष्ट्रपति नन्दकिशोर पुन के बेटे की गिरफ्तारी हो चुकी है।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज/पवन

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story