खान यूनिस में इजराइली सेना ने तोपों से गोले बरसाते हुए किया प्रवेश, अस्पताल की तलाशी में मिलीं 283 लोगों की कब्र

यरुशलम, 23 अप्रैल (हि.स.)। गाजा के खान यूनिस शहर में सोमवार को इजराइली सेना ने तोपों से गोले बरसाते हुए अचानक प्रवेश किया और छापेमारी शुरू कर दी। इजराइली सैनिकों ने वहां पर फलस्तीनी लड़ाकों की धरपकड़ के लिए खाली मकानों और क्षतिग्रस्त भवनों में छापेमारी की है। छापेमारी के दौरान खान यूनिस के खाली पड़े सबसे बड़े अस्पताल के परिसर में कई सामूहिक कब्रें पाई गई हैं जिनमें बड़ी संख्या में गोली से मरे लोगों को दफन किया गया है। माना जा रहा है कि इन लोगों को इजराइली सैनिकों ने मारकर जमीन के नीचे दबा दिया था।

गाजा के दूसरे सबसे बड़े शहर खान यूनिस पर इजराइली हमले के दौरान हजारों लोगों ने नासेर अस्पताल परिसर में शरण ली थी। इजराइली सैनिकों ने अस्पताल में घुसकर कार्रवाई की और उसकी तलाशी ली। इस दौरान अस्पताल में लोगों के मारे जाने की जानकारी सामने आई थी। अब यह अस्पताल खाली है और गाजा प्रशासन के अधिकारियों ने जब वहां का दौरा किया तो उन्हें वहां पर सामूहिक कब्रें मिली हैं जिनमें दफन 283 लोगों के शव मिल चुके हैं। गाजा प्रशासन का आरोप है कि इजराइली सेना ने आमजनों को मारकर उनके शवों को दफना दिया। इजराइली सेना का यह कृत्य सामने आने पर गाजा में सात अक्टूबर, 2023 के बाद मरने वाले फलस्तीनी लोगों की संख्या बढ़ सकती है।

इजराइल के मिलिट्री इंटेलीजेंस विभाग के निदेशक मेजर जनरल हेरोन हालिवा ने पद से इस्तीफा दे दिया है। रक्षा मंत्री योएव गैलेंट ने उनका इस्तीफा स्वीकार करने की संस्तुति कर दी है लेकिन नई व्यवस्था होने तक हालिवा को पद पर बने रहने के लिए कहा है। माना जा रहा है कि सात अक्टूबर, 2023 को इजराइल पर हमास के हमले की पूर्व जानकारी जुटा पाने में विफलता के चलते हालिवा ने इस्तीफा दिया है।

इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा है कि 129 इजराइली बंधकों की रिहाई और गाजा युद्ध में जीत सुनिश्चित करने के लिए आने वाले दिनों में हमास पर और ज्यादा सैन्य और कूटनीतिक दबाव बढ़ाएंगे। ज्ञात रहे कि इजराइली सेना ने हाल के दिनों में गाजा के रफाह शरणार्थी क्षेत्र में हवाई हमले बढ़ाए हैं। इस क्षेत्र में करीब 14 लाख बेघर फलस्तीनी शरण लिए हुए हैं।

वेस्ट बैंक में सोमवार को इजराइली सेना के चेकपोस्ट के नजदीक फायरिंग में एक फलस्तीनी महिला मारी गई। 43 वर्षीय यह महिला जब जार्डन वैली चेकपोस्ट के नजदीक आई तभी उसे गोली मार दी गई।

हिन्दुस्थान समाचार/ अजीत तिवारी/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story