इजराइली सेना अब हमास के अभेद्य दुर्ग पर चढ़ाई को तैयार, नागरिकों को उत्तरी गाजा छोड़ने की चेतावनी, तुर्किये से राजनयिक बुलाए

इजराइली सेना अब हमास के अभेद्य दुर्ग पर चढ़ाई को तैयार, नागरिकों को उत्तरी गाजा छोड़ने की चेतावनी, तुर्किये से राजनयिक बुलाए


इजराइली सेना अब हमास के अभेद्य दुर्ग पर चढ़ाई को तैयार, नागरिकों को उत्तरी गाजा छोड़ने की चेतावनी, तुर्किये से राजनयिक बुलाए


इजराइली सेना अब हमास के अभेद्य दुर्ग पर चढ़ाई को तैयार, नागरिकों को उत्तरी गाजा छोड़ने की चेतावनी, तुर्किये से राजनयिक बुलाए


तेल अवीव/यरुशलम, 29 अक्टूबर (हि.स.)। फिलिस्तीन के आतंकवादी संगठन हमास के इस महीने की सात तारीख को इजराइल पर किए गए बर्बर हमले के बाद समूची गाजा पट्टी आग का गोला बन गई है। इजराइल की थल सेना अत्याधुनिक टैंकों के साथ उत्तरी गाजा में घुस चुकी है। वायु सेना लगातार रॉकेट और मिसाइल दाग रही है। इजराइली सैनिकों ने कुछ स्थानों पर अपने देश का झंडा फहराया है। इस बीच इजराइल ने उत्तरी गाजा के नागरिकों से फौरन दक्षिणी गाजा चले जाने को कहा है। साथ ही इजराइल गाजा पट्टी के सबसे बड़े अल शिफा अस्पताल के नीचे मौजूद हमास के अभेद्य दुर्ग को कभी भी निशाना बना सकता है। गाजा पट्टी पर जंग का आज तेईसवां दिन है। यह जानकारी मीडिया रिपोर्ट्स में दी गई है।

इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने शनिवार रात प्रेस कॉन्फ्रेंस में घोषणा की कि जंग के दूसरे चरण की शुरुआत हो चुकी है। इजराइली सेना गाजा में घुसकर हमले कर रही है। यह इजराइल की आजादी की दूसरी लड़ाई है। इजराइलियों को लंबे और कठिन दौर से गुजरने के लिए तैयार रहना होगा। इस युद्ध में इजराइल का मकसद साफ है। इजराइल, हमास को खत्म कर बंधकों को वापस लाएगा। हमास हमले से बचने के लिए आम लोगों को ढाल बना रहा है। मानवता और अपने अस्तित्व की रक्षा के लिए हमास को जड़ से मिटाना जरूरी है।

युद्ध के तेईसवें दिन इजराइल सुरक्षा फोर्सेज (आईडीएफ) ने कहा है कि हमास के आतंकियों के ठिकानों को चुन-चुन कर तबाह किया जा रहा है।प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने बंधकों के परिजनों से मुलाकात की है। हमास की कैद में 229 नागरिक हैं। इनको हमास ने सुरंगों में कैद कर रखा है। हमास ने गाजा के सबसे बड़े अल शिफा अस्पताल के नीचे अपना अभेद्य किला बना रखा है। यहां सुरंगें हैं। यहां हजारों आतंकवादी भी छुपे हुए हैं। इजराइल के सैन्य प्रवक्ता रियर एडमिरल डैनियल हगारी ने कहा है कि उत्तरी गाजा में रहने वाले लोग फौरन दक्षिण में सुरक्षित क्षेत्रों में चले जाएं। वहां उनके लिए दवा, पानी और भोजन की व्यवस्था की गई है। इजराइल की लड़ाई नागरिकों से नहीं, सिर्फ हमास से है।

इस बीच एक अन्य रिपोर्ट में कहा गया है कि गाजा में इंटरनेट और मोबाइल सेवा में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है। इजराइली सैनिकों ने उत्तरी गाजा में एक इजरायली झंडा फहराया है। साथ ही 401वीं ब्रिगेड की 52वीं बटालियन के सैनिकों ने गाजा के मध्य में समुद्र तट के किनारे इजराइल का झंडा फहराया। हमास संचालित गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि युद्ध में मरने वालों की संख्या 8,000 से अधिक हो गई है

कुछ रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि सऊदी अरब के रक्षामंत्री खालिद बिन सलमान अल सऊद के अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के प्रशासन के अधिकारियों के साथ बातचीत के लिए सोमवार को व्हाइट हाउस जाने की उम्मीद है। इस घटनाक्रम के बीच इजराइल ने तुर्किये से अपने सभी राजनयिकों को वापस बुलाने की घोषणा की है। इजराइल की यह प्रतिक्रिया तुर्किये के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन के बयान के बाद आई है। एर्दोगन ने शनिवार को इस्तांबुल में फिलिस्तीन समर्थक रैली में कहा था कि वह इजराइल को युद्ध अपराधी घोषित करने की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने पश्चिम पर इजरायल के हमले को रोकने में विफल रहने का भी आरोप लगाया था।

इस बीच हमास ने कहा है कि वह अपहृत बंधकों को रिहा करने के लिए तैयार है, लेकिन इसके लिए इजरायल को अपने कब्जे में लिए गए सभी फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करना होगा।

हिन्दुस्थान समाचार/मुकुंद/पवन

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story