नेपाल और भारत के ऊर्जा सचिवों की बैठक में हुए कई अहम फैसले

नेपाल और भारत के ऊर्जा सचिवों की बैठक में हुए कई अहम फैसले


नेपाल और भारत के ऊर्जा सचिवों की बैठक में हुए कई अहम फैसले


काठमांडू, 07 जनवरी (हि.स.)। नेपाल और भारत के ऊर्जा सचिव स्तरीय बैठक में अन्तरदेशीय प्रसारण लाइन की क्षमता बढ़ाने से लेकर बांग्लादेश तक में बिजली निर्यात जैसे कई अहम मुद्दों पर फैसले लिए गए हैं।नेपाल के चितवन में हुई दो दिवसीय बैठक में मुजफ्फरपुर ढल्केवर प्रसारण लाइन की क्षमता को दोगुना किए जाने पर सहमति हो गई है।

भारत के ऊर्जा मंत्रालय के सचिव पंकज अग्रवाल ने बताया कि नेपाल का पहला अन्तरदेशीय प्रसारण लाइन रहे मुजफ्फरपुर ढल्केवर प्रसारण लाइन की वर्तमान क्षमता 400 केवी की है। सचिव स्तरीय बैठक में इसकी क्षमता 800 केवी तक पहुंचाने पर सहमति हो गई है। इसके अलावा नेपाल को भारतीय प्रसारण लाइन का प्रयोग कर अपना बिजली बांग्लादेश तक बेचने को लेकर जल्द ही त्रिपक्षीय समझौता करने का भी फैसला लिया गया।

नेपाल के ऊर्जा मंत्रालय के प्रवक्ता नवीन राज सिंह ने बताया कि भारत के रास्ते बांग्लादेश तक बिजली बेचने के लिए जल्द ही नेपाल विद्युत प्राधिकरण, भारत की एनटीपीसी विद्युत व्यापार निगम और बांग्लादेश के पावर डेवलपमेंट बोर्ड के बीच त्रिपक्षीय समझौता करने पर सहमति हो गई है। प्रवक्ता सिंह ने बताया कि सचिव स्तरीय बैठक में नेपाल भारत के बीच रहे मौजुदा विद्युत प्रसारण लाइन, निर्माणाधीन तथा प्रस्तावित अन्तरदेशीय प्रसारण लाइन, भारतीय निवेश वाले विभिन्न जलविद्युत आयोजना तथा सम्बद्ध प्रसारण लाइन आयोजना, अन्तरदेशीय विद्युत आयात–निर्यात जैसे विषयों पर चर्चा की गई थी।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज दास/सुनीत

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story