सोमालिया तट पर अपहृत जहाज में सवार सभी भारतीयों को सुरक्षित निकाला गया, सुरक्षा के लिए अरब सागर में चार युद्धपोत तैनात

सोमालिया तट पर अपहृत जहाज में सवार सभी भारतीयों को सुरक्षित निकाला गया, सुरक्षा के लिए अरब सागर में चार युद्धपोत तैनात
सोमालिया तट पर अपहृत जहाज में सवार सभी भारतीयों को सुरक्षित निकाला गया, सुरक्षा के लिए अरब सागर में चार युद्धपोत तैनात


मोगादिशु, 5 जनवरी (हि. स.)। सोमालिया तट पर अपहृत जहाज एमवी लीला नोरफोक पर सवार सभी 15 भारतीयों सहित चालक दलों को सुरक्षित बचा लिया गया है। भारतीय सैन्य अधिकारियों ने कहा कि नौसेना के कमांडो जहाज के अन्य हिस्सों में जांच अभियान चला रहे हैं। वहीं, भारतीय नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार ने अरब सागर में सक्रिय भारतीय युद्धपोतों को समुद्री लुटेरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही इस क्षेत्र में व्यापारिक जहाजों पर हमलों को रोकने के लिए अरब सागर में भारतीय नौसेना के चार युद्धपोत तैनात किए गए हैं।

बता दें कि अरब सागर में सोमालिया के तट के नजदीक लाइबेरिया का झंडा लगा मालवाहक जहाज हाईजैक हो गया था। एमवी लीला नोरफोक नाम के इस जहाज के चालक दल में 15 भारतीय थे। सूचना मिलते ही इस जहाज को मुक्त कराने के लिए भारतीय नौसेना ने अपना युद्धपोत आइएनएस चेन्नई रवाना कर दिया था और शुक्रवार को दोपहर बाद वह हाईजैक जहाज के करीब पहुंच गया था। इससे पहले जानकारी मिली थी कि आईएनएस चेन्नई ने हाईजैक जहाज को रोक लिया है और नौसेना के मार्कोस कमांडो एमवी लीला पर उतर गए हैं। इन कमांडो ने जहाज में कार्रवाई शुरू कर दी है। इससे पहले नौसेना के गश्ती विमान ने शुक्रवार सुबह हाईजैक जहाज को तलाशा और विमान ने जहाज से संपर्क स्थापित किया। इस जहाज के अपहरण की सूचना गुरुवार को ब्रिटिश सेना के अंतर्गत कार्य करने वाले संगठन मेरीटाइम ट्रेड आपरेशंस (यूकेएमटीओ) ने दी थी। इसके बाद भारतीय नौसेना ने सक्रियता दिखाते हुए इस जहाज की तलाश की और शुक्रवार सुबह समुद्र में उसे खोज लिया।

नौसेना के प्रवक्ता ने बताया कि जहाज के चालक दल ने यूकेएमटीओ को गुरुवार शाम संकट का संदेश भेजकर बताया था कि पांच-छह हथियारबंद अज्ञात लोग जहाज पर आ गए हैं और वे जहाज को कब्जे में लेने की कोशिश कर रहे हैं। यह सूचना जैसे ही भारतीय नौसेना को मिली, उसने सक्रिय होकर हाईजैक जहाज की तलाश शुरू कर दी। नौसेना के प्रवक्ता ने बताया है कि स्थिति से पूरी गंभीरता से निपटा जा रहा है। इसके लिए क्षेत्र में कार्यरत अन्य एजेंसियों का भी सहयोग लिया जा रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार/ अजीत तिवारी/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story