गिनी में जेल पर हमला कर हथियारबंद हमलावरों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, नौ की मौत



-पूर्व राष्ट्रपति मौसा दादिस कैमारा को जेल से छुड़ाया, फिर से हुए गिफ्तार

गिनी, 7 नवंबर (हि.स.)। अफ्रीकी देश गिनी की राजधानी क्रोनाकी स्थित जेल में हथियारबंद हमलावरों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की घटना को अंजाम दिया, इस हमले में 9 लोगों की मौत हो गई। इस हमले के बाद जेल में बंद पूर्व राष्ट्रपति मौसा दादिस कैमारा व अन्य अधिकारी जेल से फरार हो गए।

कानून मंत्रालय ने आधिकारिक रिपोर्ट में कहा है कि तीन हमलावरों, चार सैनिकों और दो अन्य लोगों के शव बरामद किए गए हैं। बयान में कहा गया है कि फायरिंग में छह अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं, जिन्हें अस्पताल भर्ती करवाया गया है।

जानकारी के मुताबिक, जेल अधिकारियों ने कहा कि हमलावरों के घुसपैठ के बाद सैनिकों ने घरों और कारों की तलाशी ली, तलाशी में पूर्व सैन्य नेता मौसा दादिस कैमारा और भागे हुए दो अधिकारियों को ढूंढ लिया और उन्हें राजधानी कोनाक्री सेंट्रल हाउस जेल में वापस डाल दिया दिया। उन्होंने बताया कि जेल से भागे हुए अन्य अधिकारियों को खोजा जा रहा है।

जेल में हथियारबंद बदमाशों की इन झड़पों ने गिनी की नाजुक सुरक्षा स्थिति को उजागर कर दिया है। गिनी पर साल 2021 से ही सैन्य जुंटा का शासन है, दो साल पहले जुंटा ने गिनी पर कब्जा कर लिया था। बता दें कि पिछले तीन सालों में पश्चिम और सेंट्रल अफ्रीका में आठ देशों पर कब्जे हुए हैं।

बता दें कि कैमारा ने साल 2008 गिनी में सैन्य तख्तापलट का नेतृत्व किया था और दिसंबर 2009 तक लगभग एक साल तक गिनी पर शासन किया। उन पर पिछले साल से केस चल रहा है। कैमारा पर अन्य लोगों के साथ गिनी के सुरक्षा बलों द्वारा स्टेडियम में नरसंहार और सामूहिक दुष्कर्म की साजिश रचने का आरोप है।

हिन्दुस्थान समाचार/ अजीत तिवारी/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story