नेपाल : सोने की तस्करी में पूर्व उपराष्ट्रपति का बेटा गिरफ्तार, केन्द्रीय अनुसंधान ब्यूरो के सभी अधिकारियों का तबादला



नेपाल, 15 मार्च (हि.स.)। 100 किलो सोने की तस्करी के मामले में पूर्व उपराष्ट्रपति नन्दकिशोर पुन के बेटे दीपेश पुन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इधर, सरकार ने सोने की तस्करी की जांच ठीक से नहीं करने के कारण केन्द्रीय अनुसंधान ब्यूरो (सीआईबी) के सभी अधिकारियों का तबादला कर दिया है।

100 किलो सोने की तस्करी मामले में जांच रिपोर्ट सरकार को सौंपने के बाद ही प्रधानमंत्री तथा गृहमंत्री की तरफ से इस जांच रिपोर्ट के आधार पर कानूनी कार्रवाई आगे बढ़ाने का निर्देश दिया गया। सरकार की तरफ से निर्देश मिलते ही पुलिस ने सबसे पहले तस्करी में शामिल होने के आरोप में पूर्व उपराष्ट्रपति के बेटे पुन को उनके निवास से गिरफ्तार किया। पुलिस लगातार उसपर नजर बनाए थी। पूर्व उपराष्ट्रपति नन्दकिशोर पुन माओवादी के बडे़ नेता हैं। प्रधानमंत्री पुष्पकमल दाहाल प्रचण्ड ने कहा है कि सोने की तस्करी मामले में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

इसी बीच आज की कैबिनेट बैठक में केन्द्रीय अनुसंधान ब्यूरो के प्रमुख किरण बज्राचार्य, सोने की तस्करी मामले के जांच अधिकारी एक एसपी और दो डीएसपी को ब्यूरो से तबादला कर दिया गया। बज्राचार्य के स्थान पर श्याम ज्ञवाली को लाया गया है। गृहमंत्री लामिछाने ने कहा है कि सोने की तस्करी मामले की जांच में पुलिस की तरफ से काफी गलतियां की गई हैं, इसलिए इसकी दोबारा जांच की जाएगी।

कैबिनेट बैठक के बाद पूर्व स्पीकर तथा माओवादी नेता कृष्ण बहादुर महरा के खिलाफ सोने की तस्करी मामले में चार्जशीट दायर करने को मंजूरी दे दी गई। सरकार की प्रवक्ता रेखा शर्मा ने बताया कि पूर्व स्पीकर महरा के अलावा इस मामले में 9 चीनी नागरिकों के खिलाफ मुकदमा चलाया जाएगा।

हिन्दुस्थान समाचार / पंकज/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story