म्यांमार में लोकतंत्र समर्थकों ने कई जगह ड्रोन से हमला किया



बैंकॉक, 05 अप्रैल (हि. स.)। म्यांमार के लोकतंत्र समर्थक मुख्य प्रतिरोध समूह ने गुरुवार को दावा किया कि उसकी सशस्त्र इकाई ने हवाई अड्डे और राजधानी नेपीटा में एक सैन्य मुख्यालय पर ड्रोन हमले किए। सत्तारूढ़ सेना ने कहा कि उसने ड्रोन को नष्ट कर दिया।

विपक्षी राष्ट्रीय एकता सरकार के “रक्षा मंत्रालय” ने बयान में कहा कि ‘पीपुल्स डिफेंस फोर्स’ की विशेष इकाइयों ने एक साथ हमला करने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया। एनयूजी के संक्षिप्त नाम से जाने जाने वाला समूह खुद को देश की वैध सरकार कहता है, जबकि पीपुल्स डिफेंस फोर्स काफी हद तक स्वायत्तता वाले कई स्थानीय प्रतिरोध समूहों से बनी है।

एनयूजी ने कहा कि हताहतों को लेकर खबरें हैं। सेना ने कहा कि उसने सात ड्रोन मार गिराए और किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है। हमले के अधिकांश विवरणों को स्वतंत्र रूप से सत्यापित करना संभव नहीं है।

फरवरी 2021 में सेना द्वारा आंग सान सू ची की निर्वाचित असैन्य सरकार से सत्ता छीनने के बाद से म्यांमार में उथल-पुथल मची हुई है। इस घटनाक्रम के बाद से राष्ट्रव्यापी शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया, जिसे सुरक्षा बलों ने बलपूर्वक दबा दिया, जिसके परिणामस्वरूप सशस्त्र प्रतिरोध हुआ जो गृह युद्ध के समान है।

हिन्दुस्थान समाचार/ अजीत तिवारी/मुकुंद

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story