चीन में पहाड़ टूटने से भूस्खलन में 44 लोग दबे, कई घर हुए तबाह



बीजिंग, 23 जनवरी (हि.स,)। चीन के दक्षिण पश्चिम भाग में पहाड़ों के दरकने से हुए भूस्खलन में करीब 47 लोग दब गए हैं। जानकारी के मुताबिक युन्नान में सोमवार तड़के भूस्खलन के बाद लापता लोगों की तलाश एवं बचाव कार्य जारी है। स्थानीय अधिकारियों के हवाले से बताया कि भूस्खलन युन्नान प्रांत के झेंक्सिओनग काउंटी में सुबह 5:51 बजे हुआ। राज्य प्रसारक सीसीटीवी ने कहा कि लगभग 18 घर तबाह हो गए और 200 से अधिक लोगों को बाहर निकालने का काम जारी है।

सीसीटीवी के अनुसार, अधिकारियों ने 200 से अधिक बचाव कर्मियों के साथ-साथ दर्जनों दमकल गाड़ियों के साथ आपातकालीन प्रक्रिया शुरू कर की। एक स्थानीय प्रसारक द्वारा सोशल मीडिया पर साझा किए गए फुटेज में नारंगी जंपसूट और हेलमेट पहने आपातकालीन कर्मचारियों को एक फायर स्टेशन के बाहर देखा जा सकता है।

अन्य तस्वीरों में बचावकर्मियों को ढही हुई चिनाई के ऊंचे ढेरों को उठाते हुए देखा गया। अधिकारियों ने यह नहीं बताया है कि भूस्खलन में किसी की मौत हुई है या नहीं। आपदा से प्रभावित घर के अंदर फंसे एक ग्रामीण को बाहर निकालने का काम जारी हैं। चीन के दूर-दराज और अक्सर गरीब क्षेत्र युन्नान में भूस्खलन आम बात है, जहां खड़ी पर्वत श्रृंखलाएं हिमालय के पठार से टकराती हैं। मौसम के आंकड़ों से पता चला है कि सोमवार की सुबह जेनक्सिओनग में तापमान शून्य से चार डिग्री सेल्सियस (24.8 डिग्री फ़ारेनहाइट) के आसपास रहा। भूस्खलन का कारण क्या हो सकता है, इसके बारे में तत्काल कोई आधिकारिक स्पष्टीकरण नहीं आया है।

हिन्दुस्थान समाचार/ अजीत तिवारी/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story