डिजिटल नियमों के संभावित उल्लंघन को लेकर यूरोपीय संघ ने शुरू की टिक टॉक के खिलाफ जांच



लंदन, 20 फरवरी (हि.स.)। लाखों बच्चों और किशोरों तक पहुंच रखने वाले सोशल मीडिया के प्लेटफार्म टिकटॉक पर नियमों के उल्लंघन करने के खिलाफ बड़ी हो सकती है। यूरोपीय संघ (ईयू) ने सोमवार को कहा कि वह संगठन के नए डिजिटल नियमों के संभावित उल्लंघन पर चीनी ऐप टिकटॉक की जांच कर रही है। ईयू की कार्यकारी शाखा यूरोपीय आयोग ने कहा कि गत वर्ष से प्रभावी डिजिटल सेवा अधिनियम (डीएसए) के नियमों के संभावित उल्लंघन का आकलन करने के लिए कार्यवाही शुरू कर दी गई है।

डीएसए में इंटरनेट यूजर्स को घृणास्पद भाषण जैसे हानिकारक व अवैध सामग्री से सुरक्षित करने, एल्गोरिदम सिफारिशों का विकल्प देने और बच्चों पर लक्षित विज्ञापन पर प्रतिबंध लगाने जैसे नियमों का प्रवधान किया गया है। आयोग इस बात पर ध्यान दे रहा है कि क्या टिकटॉक अपने डिजाइन से पैदा होने वाले प्रणालीगत जोखिमों के निपटने के लिए प्रयास कर रहा है। इसमें व्यवहारिक व्यसनों को भड़काने वाले एल्गोरिदम सिस्टम भी शामिल हैं। आयोग ने कहा कि नाबालिगों को 'अनुचित सामग्री' खोजने से रोकने के लिए आयु सत्यापन जैसे उपकरण प्रभावी नहीं हो सकते हैं।

ईयू आयुक्त थिएरी ब्रेटन ने कहा कि नाबालिगों की सुरक्षा डीएसए के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता है। लाखों बच्चों और किशोरों तक पहुंच रखने वाले प्लेटफार्म टिकटॉक को डीएसए का पूरी तरह से पालन करना चाहिए।

हिन्दुस्थान समाचार/अजीत तिवारी/आकाश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story