नेपाल के एसीबी चीफ बोले- भ्रष्टाचारियों पर शिकंजा कसने के बाद विदेशों से होने लगी है डीलिंग



नेपाल, 27 फरवरी (हि.स.)। नेपाल में भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम तेज होने और एक के बाद एक बड़ी मछलियों पर शिकंजा कसने के बाद अब इसकी डीलिंग देश से बाहर विदेशों में होने लगी है। यह दावा खुद एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) के प्रमुख ने किया है। संसदीय समिति के समक्ष एसीबी प्रमुख ने कहा कि विदेशों में होने वाले इस प्रकार की डीलिंग को रोकने में वो सक्षम नहीं हैं।

एसीबी प्रमुख आयुक्त प्रेम राई को मंगलवार को संसद की सार्वजनिक लेखा समिति ने तलब किया था। समिति के सदस्यों ने देश में हुए बड़े भ्रष्टाचार के मुद्दे पर जांच की प्रगति का विवरण मांगने के लिए एसीबी प्रमुख को तलब किया था। समिति के सदस्यों के सवाल पर प्रेम राई ने कहा कि सभी बड़े भ्रष्टाचार के केस में जांच प्रगति से वो संतुष्ट हैं और जल्द ही कुछ और बड़े भ्रष्टाचार के मामले में विशेष अदालत में चार्जशीट दायर की जाएगी। हालांकि भ्रष्टाचार के कुछ मामलों की जड़ें विदेशों से जुड़ी हुई हैं, लेकिन एसीबी कुछ नहीं कर सकती है।

एसीबी प्रमुख राई ने कहा कि नेपाल का अधिकांश देशों के साथ लीगल म्युचुअल समझौता नहीं होने के कारण विदेशों में होने वाले डीलिंग को लेकर नेपाली एजेंसी कुछ भी नहीं कर पा रही है। एयरबस कंपनी से वाइड बॉडी विमान खरीद मामले में हुए भ्रष्टाचार की जांच अंतिम चरण में होने के बावजूद कई ऐसे दस्तावेज हैं जो विदेशी कंपनियों के पास हैं। राई ने संसदीय समिति के समक्ष इस बात का भी खुलासा किया कि वाइड बॉडी खरीद में भ्रष्टाचार हुआ है यह तय है लेकिन कमीशन की रकम को विदेशी बैंकों में जमा होने के कारण उन बैंकों की तरफ से बिना समझौते के कोई भी दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है। इस कारण अदालत में चार्जशीट दायर होने में देरी हो रही है।

हिन्दुस्थान समाचार/पंकज दास/पवन

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story