उत्तराखंड फिल्म पवेलियन बना लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र

उत्तराखंड फिल्म पवेलियन बना लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र


देहरादून, 24 नवम्बर (हि.स.)। गोवा में शुक्रवार को उत्तराखंड फिल्म पवेलियन में विशेष प्रमुख सचिव सूचना ने अन्तरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में शामिल की गई उत्तराखंड में निर्मित शार्ट हिन्दी फिल्म पाताल-ती की टीम से भेंट कर उन्हें बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

विशेष प्रमुख सचिव सूचना अभिनव कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की हैं। मुख्यमंत्री का कहना है कि राज्य के लिए यह गर्व की बात है कि रुद्रप्रयाग जिले के युवाओं का यह प्रयास राष्ट्रीय एवं अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी अलग पहचान बना पाया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ऐसे प्रयासों को हर संभव सहयोग एवं प्रोत्साहन देगी। पाताल ती कल 25 नवम्बर को फिल्म महोत्सव में दिखायी जाएगी। नई फिल्म नीति में अंतरराष्ट्रीय समारोहों के लिए चयनित फिल्मों को प्रोत्साहन देने हेतु विशेष प्रावधान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य के युवा फिल्म निर्माताओं को हर संभव सहयोग देना प्राथमिकता है, जिससे उत्तराखंड में स्वस्थ और समृद्ध फिल्म संस्कृति का विकास हो।

इस अवसर पर फिल्म के निर्माता-निर्देशक रुद्रप्रयाग जिले के संतोष रावत एवं उनकी टीम ने बताया कि अपने सीमित संसाधनों के बल पर इस शार्ट फ़िल्म का निर्माण किया गया है। इस फिल्म को दक्षिण कोरिया के बुसान शहर में 39वें इंटरनेशनल शार्ट फिल्म फेस्टिवल में प्रदर्शित किया जा चुका है। इसके साथ ही मास्को में भी प्रदर्शित हो चुकी है। संतोष रावत ने बताया कि यह फिल्म उत्तराखंड की भोटिया जनजाति पर केंद्रित फिल्म है, जो एक दादा-पोते के बीच भावनात्मक रिश्ते के ऊपर है। यह फिल्म 26 मिनट की है, जो पहाड़ में प्रकृति व मानव के बीच के संघर्ष को सामने लाती है। उन्होंने विशेष प्रमुख सचिव सूचना का धन्यवाद ज्ञापित किया। साथ ही राज्य सरकार से युवाओं को सहयोग प्रदान करने का अनुरोध किया।

उत्तराखंड पवेलियन में प्रसिद्ध अभिनेता पंकज त्रिपाठी और संजय सूरी ने भ्रमण किया। उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद के नोडल अधिकारी डॉ. नितिन उपाध्याय भी उपस्थित थे।

बॉलीवुड में अपनी कला और सरल व्यक्तित्व के दम पर अलग पहचान बना चुके प्रसिद्ध अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने उत्तराखंड पवेलियन में आकर फ़िल्म नीति और शूटिंग लोकेशन की जानकारी ली।

इस अवसर पर पंकज त्रिपाठी को उत्तराखंड की पहाड़ी टोपी और अंगवस्त्र भेंट किया गया। पंकज त्रिपाठी ने कहा कि उत्तराखंड बेहद खूबसूरत जगह है।इसके साथ ही प्रसिद्ध फिल्म अभिनेता संजय सूरी भी उत्तराखंड पैवेलियन में आए। उन्होंने ने फिल्म नीति में शॉर्ट फिल्म और वीडियो ब्लॉगिंग को स्थान देने का सुझाव दिया। संजय सूरी ने कोविड काल में उत्तराखंड में दो फिल्में ंशूट की हैं ।

53वें अन्तरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में विभिन्न राज्य सरकारों ने प्रतिभाग किया गया है। मध्यप्रदेश, उत्तराखंड, गुजरात, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, पंजाब, दिल्ली, झारखंड के साथ ही अन्य फ़िल्म निर्माता और निर्देशकों द्वारा प्रतिभाग किया जा रहा है। इन सबके बीच उत्तराखंड पवेलियन सभी फिल्म निर्माता और निर्देशकों के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

हिन्दुस्थान समाचार/ साकेती

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story