Pradosh Vrat 2024: साल 2024 में कब-कब रखा जाएगा प्रदोष व्रत, यहां जानें तिथि और महत्व

n

प्रत्येक महीने में कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को प्रदोष व्रत पड़ता है। पुराणों में बताया गया है कि त्रयोदशी की रात के पहले प्रहर में जो व्यक्ति किसी भेंट के साथ शिव प्रतिमा के दर्शन करता है। उसके समस्त समस्याओं का हल निकलता है। इस दिन व्रती को नित्यकर्मों से निवृत होकर व्रत का संकल्प लेना चाहिए और पूरे दिन उपवास करना चाहिए। धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, प्रदोष व्रत करने से जीवन के सभी संकट दूर हो जाते हैं और मन की हर कामना पूरी हो जाती है। तो आइए जानते हैं कि साल 2024 में कब-कब कौन-कौनसे प्रदोष व्रत पड़ेंगे।

भौम प्रदोष व्रत 2024
अब बात करेंगे वर्ष 2024 में पड़ने वाले सभी प्रदोष व्रत के बारे में और भौम प्रदोष व्रत है। सबसे पहले बात करेंगे भौम प्रदोष के बारे मेंष। इस साल कुल 5 भौम प्रदोष व्रत पड़ रहे हैं। बता दें कि भौम प्रदोष व्रत करने से मंगल संबंधी समस्याओं से छुटकारा तो मिलता ही है साथ में कर्ज से छुटकारा पाने के लिए भी भौम प्रदोष व्रत किसी वरदान से कम नहीं है।

पहला भौम प्रदोष व्रत (2024)- 9 जनवरी 2024
दूसरा भौम प्रदोष व्रत- 23 जनवरी 2024
तीसरा भौम प्रदोष व्रत- 5 जून 2024
चौथा भौम प्रदोष व्रत- 15 अक्टूबर 2024
पांचवा भौम प्रदोष व्रत- 29 अक्टूबर 2024

बुध प्रदोष व्रत 2024
इस वर्ष कुल 5 बुध प्रदोष व्रत पड़ रहे हैं। बुध प्रदोष के दिन व्रत कर प्रदोष काल में शिवलिंग के समीप देसी घी का चौमुखी दीपक जलाकर शिव चालीसा का पाठ करना चाहिए। साथ ही बुध के इस मंत्र का 21 बार जप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- ॐ बुद्धिप्रदाये नमः। बुध प्रदोष के दिन ऐसा करने से जीवन में समृद्धि आती है। कामना की सिद्धि होती और आपके और आपके बच्चों के बुद्धि का विकास भी होता है और अब जान लेते हैं कि वर्ष 2024 में कब-कब बुध प्रदोष पड़ रहे हैं।

पहला बुध प्रदोष व्रत- 7 फरवरी 2024
दूसरा बुध प्रदोष- 21 फरवरी 2024
तीसरा बुध प्रदोष- 19 जून 2024
चौथा बुध प्रदोष- 3 जुलाई 2024
पांचवा बुध प्रदोष- 13 नवंबर 2024

गुरु प्रदोष व्रत 2024
अब बात करते हैं गुरुवार के दिन पड़ने वाले प्रदोष यानि गुरु प्रदोष की, तो इस वर्ष कुल 2 गुरु प्रदोष पड़ रहे हैं। जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए गुरु प्रदोष का व्रत करना काफी लाभदायक माना जाता है।

पहला गुरु प्रदोष- 1 अगस्त 2024
दूसरा गुरु प्रदोष- 28 नवंबर 2024

m

शुक्र प्रदोष व्रत 2024
कहते हैं कि शुक्र प्रदोष व्रत करने से जातक को सौभाग्य, समृद्धि व कल्याण मिलता है। साथ ही धर्म, अर्थ, काम व मोक्ष की प्राप्ति होती है। तो बता दूं कि- इस वर्ष कुल 4 शुक्र प्रदोष व्रत पड़ रहे हैं।

पहला शुक्र प्रदोष व्रत- 8 मार्च 2024
दूसरा शुक्र प्रदोष व्रत- 22 मार्च 2024
तीसरा शुक्र प्रदोष व्रत- 19 जुलाई 2024
चौथा  शुक्र प्रदोष व्रत- 13 दिसंबर 2-24

शनि प्रदोष 2024
शनि प्रदोष को शनि प्रदोषम् भी कहा जाता है। शनि प्रदोष के दिन भगवान शंकर के साथ ही शनिदेव की पूजा का बड़ा ही महत्व है। शनि प्रदोष व्रत सुख-समृद्धि में बढ़ोतरी और संतान की कामना से किया जाता है। बता दें कि इस वर्ष कुल 4 शनि प्रदोष व्रत पड़ रहे हैं।

पहला शनि प्रदोष- 6 अप्रैल 2024
दूसरा शनि प्रदोष- 17 अगस्त 2024
तीसरा शनि प्रदोष- 31 अगस्त 2024
चौथा शनि प्रदोष- 28 दिसंबर 2024

रवि प्रदोष व्रत 2024
रवि प्रदोष का व्रत करने से जीवन में सुख, शांति और लंबी आयु की प्राप्त होती है। सूर्य ग्रहों का राजा है और रवि प्रदोष का संबंध सीधा सूर्य से होता है। रविवार के दिन प्रदोष का व्रत रखने से सूर्य संबंधी परेशानियों से भी छुटकारा मिलता है। तो चलिए जान लेते है कि वर्ष 2024 में रवि प्रदोष व्रत कब-कब पड़ रहे है। वर्ष 2024 में कुल 3 रवि प्रदोष व्रत पड़ रहे हैं। 

पहला रवि प्रदोष व्रत- 21 अप्रैल 2024
दूसरा रवि प्रदोष व्रत- 5 मई 2024
तीसरा रवि प्रदोष व्रत- 15 सितंबर 2024

m

सोम प्रदोष व्रत 2024
इस वर्ष कुल 2 सोम प्रदोष व्रत पड़ रहे हैं। सोमवार तो वैसे भी भगवान शिव का दिन माना जाता है। लिहाजा सोमवार के दिन प्रदोष का व्रत रख कर भगवान शंकर की पूजा-अर्चना और उपासना करने से भगवान शिव अतिशीघ्र प्रसन्न होते हैं और उपासक को अपना आशीर्वाद प्रदान करते हैं, जिससे व्यक्ति के सुख-सौभाग्य में बढ़ोतरी होती है और जीवन में वैभव की भी प्राप्ति होती है। आईये अब जान लेते हैं कि इस वर्ष कब-कब सोम प्रदोष व्रत करना है।

पहला सोम प्रदोष व्रत- 20 मई 2024
दूसरा सोम प्रदोष व्रत- 30 सितंबर 2024

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story