30 अगस्त 2023 बुधवार का पञ्चाङ्ग और शुभ मुहूर्त

panchang

॥ॐ श्रीगणेशाय नम:॥ 

॥श्रीसूर्यसिद्धान्तीय 🌞 काशीस्थ पञ्चाङ्ग॥

विक्रम सम्वत - २०८० "पिङ्गल नामक संवत्सर" 
शक सम्वत - १९४५

ऋतु    - वर्षा 
मास व पक्ष – शुद्ध श्रावण शुक्लपक्ष  
वार       - बुधवार 
तिथि    - चतुर्दशी (१०:०५ बजे तक) 
    
नक्षत्र    - धनिष्ठा (२१:३८ बजे तक)  - (चन्द्रमा मकर राशि में १०:२८ बजे तक तदुपरान्त कुम्भ राशि में) 
 
करण १    - वणिज (१०:०५ बजे तक)   
करण २    - विष्टि (भद्रा) (२०:५२ बजे तक)
करण ३    - बव (सूर्योदयपर्यन्त) 
 
योग      - अतिगण्ड (२३:२१ बजे तक) 
        
सूर्योदय    - ०५:३९ बजे
सूर्यास्त    - १८:१८ बजे
दिशाशूल     - उत्तर

विशेष : रात्रि २०:५२ बजे के पश्चात रक्षाबन्धन का पर्व मनाना उचित है| 

ख्रिष्टीय वर्षानुसार दिनांक ३० अगस्त २०२३ ई०

॥तन्मेमनः शिवसङ्कल्पमस्तु॥
       **********
(कृपया समय २४ घण्टे के प्रारूप में पढ़ें)

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story