राशिफल : कैसा रहेगा आज का दिन, जानिए क्या-क्या होगा लाभ।

f

08 मई 2023 सोमवार का दिन है। आइये प्रख्यात हस्तरेखा विशेषज्ञ विमल जैन से जानते है कि क्या कहते हैं आपके किस्मत के सितारे। कैसा जाएगा आपका आज का दिन।

मेष- समय अशुभ, विचारों में उग्रता, लापरवाही से हानि, स्वजनों से अनबन, शेष समय में कार्य व्यवसाय में लाभ, प्रतियोगिता में सफलता ।
वृषभ- ग्रहस्थिति बेहतर, योजना पर कार्यारम्भ, आपसी मतभेद कम, शेष समय में महत्वपूर्ण उपलब्धि में विलम्ब, उलझन से तनाव, धन हानि।
मिथुन- प्रगति का प्रयास सफल, धन सम्पत्ति विषयक मसला हल, आत्मीयजनों से सहयोग, कर्ज की अदायगी समय पर, विरोधी परास्त, वाहन से सुख, लाभ भी।
कर्क- परिस्थितियों में सुधार, धर्म अध्यात्म के प्रति आस्था जागृत, पारिवारिक खुशी, स्थान परिवर्तन का कार्यक्रम, जनकल्याण की ओर रुझान, राजनीतिक लाभ।

 

सिंह- प्रतिकूलता, सोचे हुए कार्य अपूर्ण, शत्रु प्रभावी, भाग्य में न्यूनता, यात्रा कष्टकर, शेष समय में आशाएं फलीभूत, व्यावसायिक लाभ।
कन्या- ग्रहस्थिति अनुकूल, कठिनाइयों का निराकरण, नवीन उपलब्धि, शेष समय में स्वास्थ्य विपरीत, विश्वासघात की आशंका, हानि भी।
तुला- अधूरी योजना कार्यान्वित, यश मान प्रतिष्ठापरक कृत्य सम्पन्न, पारिवारिक उत्तरदायित्व की पूर्ति, किसी आयोजन में सम्मिलित होने का सुअवसर, धनागम।
वृश्चिक-चिरवांछित कार्यों में सफलता, विशिष्ट जनों से सम्पर्क का लाभ, परिजनों से अपेक्षित सहयोग, व्यापारिक वातावरण मनोनुकूल, मनोरंजन की ओर प्रवृत्ति।

 

धनु- दिनमान विपरीत, कार्य व्यापार में निराशा, व्यय की अधिकता अनावश्यक भ्रमण, शेष समय में जटिल समस्याओं का समाधान।
मकर- विचारित कार्यों में प्रगति, नवसम्पर्क उपयोगी, मन प्रसन्‍न, सामाजिक कार्यों में रझान, शेष समय में असफलता, योजना अधूरी ।
कुम्भ- योजना की पूर्ति हेतु प्रयत्तशील, स्वविवेक से लिया गया निर्णय व किया गया कार्य लाभदायक, स्थान परिवर्तन की दिशा में कार्यक्रम, संभावित यात्रा ।
मीन- कार्य व्यवसाय में सफलता, श्रेष्ठजनों से सम्पर्क का सुपरिणाम प्राप्त, सुसंदेश से परिवार में हर्ष एवं उल्लास, विरोधी परास्त, धार्मिक स्थलों की यात्रा, मन प्रसन्‍न।

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story