ट्रूअल्ट बायोएनर्जी को 1जी बायोएथेनॉल के लिए 390 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का मिला ऑर्डर

WhatsApp Channel Join Now
ट्रूअल्ट बायोएनर्जी को 1जी बायोएथेनॉल के लिए 390 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का मिला ऑर्डर


ट्रूअल्ट बायोएनर्जी को 1जी बायोएथेनॉल के लिए 390 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का मिला ऑर्डर


नई दिल्‍ली, 11 जुलाई (हि.स.)। देश की सबसे बड़ी बायोफ्यूल और बायोएनर्जी कंपनियों में से एक ट्रूअल्ट बायोएनर्जी को सार्वजनिक क्षेत्र की प्रमुख तेल एवं गैस विपणन कंपनियों (ओएमसी) से 390 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का महत्वपूर्ण ऑर्डर मिला है। इन कंपनियों में हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड, भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड, इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड और मैंगलोर रिफाइनरीज एंड पोर्ट्स लिमिटेड शामिल हैं।

कंपनी ने जारी एक बयान में बताया कि ट्रूअल्ट बायोएनर्जी को इन प्रमुख तेल विपणन कंपनियों (ओएमसी) से 390 करोड़ से ज्‍यादा का ऑर्डर मिला है। कंपनी को इस ऑर्डर में अगस्त से लेकर अक्टूबर 2024 तक तीन महीने की अवधि में करीब 6 करोड़ लीटर 1जी बायोएथेनॉल की आपूर्ति शामिल है। कंपनी ने अभी तक कुल आवंटित मात्रा का लगभग 10 फीसदी लक्ष्य हासिल कर लिया है।

ट्रूअल्ट बायोएनर्जी के संस्थापक और प्रबंध निदेशक (एमडी) विजय निरानी ने कहा कि हमारी यात्रा राष्ट्रीय जैव ईंधन नीति और भारत के इथेनॉल मिश्रित पेट्रोल (ईबीपी) कार्यक्रम के साथ शुरू हुई, जिसका उद्देश्य जैव ईंधन, अधिक पारिस्थितिक और किफायती विकल्प की ओर रुख करके जीवाश्म ईंधन और कच्चे तेल पर निर्भरता कम करने की देश की ज़रूरत को पूरा करना था। उन्‍होंने कहा कि ये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व में भारत ने जैव ऊर्जा के क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति है।

क्‍या है 1जी बायोएथेनॉल

1जी (First Generation) बायोएथेनॉल, सेल्यूलोज से भरपूर पौधों से बना एक अल्कोहल है। इसको पारंपरिक इथेनॉल संयंत्रों में बनाया जाता है। इन संयंत्रों में मकई, चावल, गेहूं, सोरघम, चुकंदर, गन्ना, या गुड़ जैसे फीडस्टॉक का इस्तेमाल किया जाता है। इन फ़ीडस्टॉक में मौजूद स्टार्च या शर्करा के किण्वन से बायोएथेनॉल बनता है। 1जी बायोएथेनॉल बनाने की प्रक्रिया में निष्कर्षण, सांद्रता, किण्वन, आसवन और निर्जलीकरण इकाइयां शामिल होती हैं।

उल्‍लेखनीय है कि ट्रूअल्ट बायोएनर्जी भारत की अग्रणी जैव ईंधन और जैव ऊर्जा कंपनियों में से एक है, जो 1G बायोएथेनॉल और संपीड़ित बायोगैस के उत्पादन में विशेषज्ञता रखती है। स्थिरता और नवाचार पर मजबूत ध्यान देने के साथ ट्रूअल्ट बायोएनर्जी का लक्ष्य देश के ऊर्जा परिवर्तन को हरित और अधिक टिकाऊ भविष्य की ओर ले जाना है।

हिन्दुस्थान समाचार / प्रजेश शंकर / रामानुज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story