मारुति सुजुकी इंडिया ने बनाया रिकॉर्ड, तीन करोड़ वाहनों का किया उत्पादन

मारुति सुजुकी इंडिया ने बनाया रिकॉर्ड, तीन करोड़ वाहनों का किया उत्पादन
मारुति सुजुकी इंडिया ने बनाया रिकॉर्ड, तीन करोड़ वाहनों का किया उत्पादन


नई दिल्ली, 03 अप्रैल (हि.स.)। निजी क्षेत्र की कार बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड (एमएसआईएल) ने तीन करोड़ वाहनों के उत्पादन की उपलब्धि हासिल की है। इन वाहनों का उत्पादन हरियाणा के गुरुग्राम एवं मानेसर और गुजरात के हंसलपुर के मैन्युफैक्चिरिंग प्लांट में किया गया है।

मारुति सुजुकी ने बुधवार को एक्स पर जारी बयान में कहा कि उसकी अनुषंगी मारुति सुजुकी इंडिया ने मार्च 2024 के अंत तक भारत में तीन करोड़ इकाइयों का संचित वाहन उत्पादन का लक्ष्य हासिल कर लिया है। कंपनी ने कहा कि मारुति सुजुकी के सभी प्रोडक्शन बेस में भारतीय कारोबार ने इस उपलब्धि को सबसे तेजी से हासिल किया है। भारत ने कंपनी के गृह राष्ट्र जापान से भी तेजी से यह उपलिब्ध हासिल किया है।

कंपनी के मुताबिक मारुति सुजुकी ने दिसबंर 1983 में उत्पादन शुरू किया था। कंपनी को इस लक्ष्य तक पहुंचने में 40 साल चार महीने लगे हैं। जहां कंपनी के हरियाणा स्थित संयंत्रों में 2.68 करोड़ इकाइयों का विनिर्माण किया गया है वहीं गुजरात स्थित संयंत्र में लगभग 32 लाख वाहनों का विनिर्माण किया गया है। इस तरह सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन के लिए भारत तीन करोड़ इकाइयों के संयुक्त उत्पादन को पार करने वाला दूसरा बाजार बन गया है।

उल्लेखनीय है कि भारत में मारुति सुजुकी का वाहन उत्पादन पहले मॉडल मारुति 800 के साथ तत्कालीन मारुति उद्योग लिमिटेड द्वारा शुरू हुआ, जो कंपनी और भारत सरकार के बीच एक संयुक्त उद्यम था। इस वक्त एमएसआईएल की हरियाणा के गुरुग्राम और गुजरात के हंसलपुर में विनिर्माण संयंत्र हैं, जहां से पूरे देश में वाहन आपूर्ति की जाती है।

हिन्दुस्थान समाचार/प्रजेश शंकर/पवन

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story